adani green energy shares is expected to rise in second session to in nse bse because of this reason in hindi

Adani Green Energy Shares: अडानी ग्रीन एनर्जी स्टॉक पिछले सेशन में 6 दिनों तक गिरने के बाद ग्रीन सिंबल पर बंद हुआ था। बीएसई पर स्टॉक 814.35 रुपये के क्लोज के मुकाबले 5% बढ़कर 855 रुपये पर क्लोज हुआ।

Adani Green Energy Shares

Adani Green Energy Shares: अडानी ग्रीन एनर्जी के शेयरों में 10 अप्रैल को लगातार दूसरे सेशन में बढ़ोतरी की संभावना है। दरअसल, अडानी ग्रुप के स्टॉक को 10 अप्रैल से लॉन्ग-टर्म अडिशनल सर्विलांस मिजर फ्रेमवर्क के पहले चरण में स्थानांतरित कर दिया जाएगा। इससे पहले, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) ) और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) ने 28 मार्च को फ्रेमवर्क के सेकेंड स्टेज के तहत अडानी ग्रीन एनर्जी को रखा था।

अडानी ग्रीन एनर्जी के शेयर 6 दिनों तक गिरने के बाद पिछले सत्र में हरे निशान पर बंद हुए थे। बीएसई पर स्टॉक 814.35 रुपये के पिछले बंद के मुकाबले 5 पर्सेंट बढ़कर 855 रुपये पर बंद हुआ। इससे पहले बीएसई पर अडानी ग्रुप का शेयर 2.89 फीसदी की बढ़त के साथ 837.90 रुपये पर खुला। ग्रीन एनर्जी फर्म का मार्केट कैप बढ़कर 1.35 लाख करोड़ रुपये हो गया है। अडानी ग्रीन एनर्जी के शेयरों ने पिछले सेशन में 5 पर्सेंट की बढ़त के साथ 855 रुपये के उच्च स्तर को छू लिया है। हालांकि, इस साल स्टॉक 55.75 फीसदी नीचे है, क्योंकि एक साल में अडानी ग्रुप के शेयर में 61 फीसदी की गिरावट आई है।

आपको बता दें कि अडानी ग्रुप का शेयर 4 अप्रैल 2022 को 52 हफ्ते के उच्च स्तर 3048 रुपये और 28 फरवरी 2023 को 439.35 रुपये के 52 हफ्ते के निचले स्तर पर पहुंच गया। अडानी ग्रीन एनर्जी स्टॉक ने अपने 52 हफ्ते के निचले स्तर से 94.61 पर्सेंट की रिकवरी की है। अडानी ग्रीन एनर्जी स्टॉक का रिलेटिव स्ट्रेंथ इंडेक्स (RSI) 50.9 है, जो यह संकेत देता है कि यह न तो ओवरसोल्ड जोन में और न ही ओवरबॉट जोन में कारोबार कर रहा है। 

अडानी ग्रीन के शेयर 20 दिन के मूविंग एवरेज से ज्यादा हैं, लेकिन 5 दिन, 50 दिन, 100 दिन और 200 दिन के मूविंग एवरेज से कम हैं। इस बीच, अडानी ट्रांसमिशन, अडानी ग्रीन एनर्जी, अडानी टोटल गैस और एनडीटीवी, हर में 5 पर्सेंट चढ़कर अडानी ग्रुप के सभी शेयर बीते गुरुवार को हरे रंग में समाप्त हुए।

संवादपत्र

संबंधित लेख