Aditya Birla Group Entering into branded jewellery retail business to invest Rs 5,000 cr in hindi

आदित्य बिड़ला ग्रुप ब्रांड ज्यूलरी के रिटेल कारोबार में कदम रखने जा रहा है। इस बिजनेस में आदित्य बिड़ला ग्रुप 5 हजार करोड़ रुपये निवेश करने वाला है।

Aditya Birla Group

Aditya Birla Group: आदित्य बिड़ला ग्रुप ब्रांड ज्यूलरी के रिटेल कारोबार में कदम रखने जा रहा है। बीटूबी कॉमर्स में पेंट और बिल्डिंग मैटेरियल के बाद पिछले दो सालों में ग्रुप का ये तीसरा बड़ा निवेश है। इस बिजनेस में आदित्य बिड़ला ग्रुप 5 हजार करोड़ रुपये निवेश करने वाला है। कंपनी ने कहा है कि ब्रांड ज्यूलरी का ये बिजनेस 'नॉवेल ज्वेल्स लिमिटेड' के साथ स्थापित किया जाएगा जो देशभर में इन-हाउस ज्वैलरी ब्रांडों के साथ बड़े पैमाने पर ज्वैलरी रिटेल स्टोर बनाने में लगा हुआ है।

ब्रांड ज्यूलरी के बिजनेस में आदित्य बिड़ला ग्रुप की एंट्री से आने वाले समय में टाटा ग्रुप के ब्रांड तनिष्क को टक्कर मिल सकती है। माना जा रहा है कि टाटा और बिड़ला ग्रुप के ब्रांड ज्यूलरी बिजनेस में उतरने से सीधा फायदा कंज्यूमर को होगा क्योंकि दोनों अपने आकर्षक डिजाइन और दाम को लेकर एक दूसरे को बीट करने की कोशिश करेंगे। 

60 अरब डॉलर के आदित्य बिड़ला ग्रुप की प्रमुख कंपनियों में ग्रासिम इंडस्ट्रीज, हिंडाल्को, आदित्य बिड़ला फैशन एंड रिटेल और आदित्य बिड़ला कैपिटल सहित कई अन्य कंपनियां शामिल हैं। आदित्य बिड़ला ग्रुप की सभी कंपनियों को मिलाकर कुल 140,000 कर्मचारी हैं।

गौरतलब है कि जून में आदित्य बिड़ला वेंचर्स ने सिल्वर ज्वेलरी स्टार्टअप जीआईवीए में फंड जुटाने की कोशिश की और सीरीज बी फंडिंग जुटाई। आदित्य बिड़ला वेंचर्स के संस्थापक आर्यमान विक्रम बिड़ला ने इस बिजनेस की घोषणा करते हुए कहा था- हम मानते हैं कि ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से चांदी की ज्वेलरी अच्छा बिजनेस है।

संवादपत्र

संबंधित लेख

Union Budget