1 बिटकॉइन की कीमत ₹ 54 लाख के पार पहुंची, जानिए कैसे उठाएं तेजी का फायदा| Bitcoin Price in INR in Hindi 2021

दुनिया की प्रमुख क्रिप्टोकरेंसीज जैसे कि बिटकॉइन, इथीरियम, रिप्पल, डॉगकॉइन, एवं टीथर में बिटकॉइन अब तक सबसे ज्यादा लोकप्रिय है और इसकी कीमत में रिकॉर्ड तेजी जारी है।

1 बिटकॉइन की कीमत ₹ 54 लाख के पार पहुंची, जानिए कैसे उठाएं तेजी का फायदा

बिटकॉइन की 2 दिसंबर 2021 को कीमत: ₹4,225,060.71

अभी तक भारत में बिटकॉइन समेत किसी भी क्रिप्टोकरेंसी को मान्यता नहीं मिली है। क्रिप्टोकरेंसी को लेकर कोई कानून भी नहीं है। इसके बावजूद बिटकॉइन का जादू निवेशकों के सर चढ़कर बोल रहा है। निवेशकों में बिटकॉइन के प्रति दीवानगी ऐसी है कि क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज पर बिटकॉइन ने 10 नवंबर 2021 को ₹54 लाख पार कर एक रिकॉर्ड उछाल दर्ज किया।

अभी तक भारत में बिटकॉइन

ऊपर दी हुई तस्वीर में आप देख सकते है कि पिछले चार महीनों (अगस्त-सितंबर-अक्टूबर-नवंबर) के दौरान वजीरएक्स क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज पर किस तरह से बिटकॉइन ने प्रदर्शन किया है। बिटकॉइन 10 अगस्त 2021 को ₹34 लाख 55 हजार 518 पर खुला, ₹34 लाख 88 हजार 712 के उच्च स्तर को छुआ, और ₹33 लाख 86 हजार 406 के निचले स्तर तक जाकर अंत में ₹34 लाख 21 हजार 451 के स्तर पर बंद हुआ। उसी तरह, 10 सितंबर 2021 को ₹36 लाख 47 हजार पर खुलकर ₹36 लाख 76 हजार 633 के उच्चे स्तर को छूकर, नीचे में ₹35 लाख 10 हजार 879 तक जाकर अंत में ₹35 लाख 40 हजार पर बंद हुआ।

अक्टूबर में भी उचाई हासिल करने के बाद, उसी तरह बिटकॉइन ने 10 नवंबर 2021 को ₹53 लाख 18 हजार 48 पर खुल, ऊपर में ₹54 लाख 39 हजार 270 तक जाकर नीचे में ₹52 लाख 51 हजार 814 तथा अंत में ₹53 लाख 40 हजार 982 पर रिकॉर्ड दर्ज़ किया।     

वहीं, अगर क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज कॉइनबेस पर बिटकॉइन की कीमत के प्रदर्शन की बात करें तो पिछले साल भर में 300 प्रतिशत से ज्यादा की तेजी आई है। 12 नवंबर 2020 को बिटकॉइन की कीमत ₹11 लाख 56 हजार 773 थी जो कि 10 नवंबर 2021 को उछलकर ₹51 लाख 18 हजार 71 पर पहुंच गई। यानी करीब 317 प्रतिशत का उछाल। 

इस दौरान बिटकॉइन का बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) ₹91.3 ट्रिलियन पर जा पहुंचा। कुल क्रिप्टोकरेंसी के बाजार पूंजीकरण में बिटकॉइन की हिस्सेदारी 35 प्रतिशत है।

अगर वैश्विक बाजारों में बिटकॉइन की बात करें तो कॉइनबेस एक्सचेंज पर इसकी कीमत 10 नवंबर 2021 को 69 हजार डॉलर पर जा पहुंची थी। 12 नवंबर 2020 को कॉइनबेस एक्सचेंज पर बिटकॉइन की कीमत की बात करें तो यह 15,446.82 डॉलर थी यानी बिटकॉइन ने करीब एक साल में 300 प्रतिशत से ज्यादा का मुनाफा दिया। वैश्विक बाजार में बिटकॉइन का बाजार पूंजीकरण भी 3 ट्रिलियन डॉलर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया है। 

बिटकॉइन में तेजी का फायदा कैसे उठाएं: 

2009-10 में ही तो बिटकॉइन ने शून्य से सफर की शुरुआत की थी, और देखते देखते इसकी कीमत महज 11-12 साल में शून्य डॉलर से करीब 69 हजार डॉलर तक पहुंच गई है, और वो भी तमाम सरकारें एवं केंद्रीय बैंकों की मदद के बिना। भले ही बिटकॉइन या कोई भी क्रिप्टोकरेंसी दुनिया की सबसे ताकतवर करेंसी अमेरिकी डॉलर ना हो, लेकिन ये डॉलर के मुकाबले लगातार ताकतवर होती जा रही है। यही वजह है कि दुनिया के बड़े-बड़े लोग एवं बड़ी-बड़ी कंपनियां बिटकॉइन में पैसे लगा रही हैं तथा बिटकॉइन समेत तमाम क्रिप्टोकरेंसी में भुगतान स्वीकार कर रही हैं।

आज पोर्टफोलियो मैनेजमेंट कंपनियां बिटकॉइन या दूसरे क्रिप्टोकरेंसी में निवेश कर ग्राहकों को पोर्टफोलियो डायवर्सिफाइड की सुविधा दे रही हैं। यानी एक तरह से कहें तो सोना, चांदी, रियल इस्टेट, शेयर बाजार एवं म्यूचुअल फंड के अलावा एब निवेशकों के लिए निवेश का एक और विकल्प आ गया है - बिटकॉइन समेत अन्य क्रिप्टोकरेंसी।

जब बिटकॉइन का रुतबा बढ़ रहा है तो भला कौन नहीं इसमें पैसा लगाना चाहेगा। अगर आप भी बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी में तेजी का फायदा उठाकर मुनाफा कमाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज पर अपना खाता खुलवाना होगा। ज्यादातर एक्सचेंज खाता खुलवाते समय केवाईसी (अपने ग्राहक को जानें) नियमों का सख्ती से पालन करते हैं।

भारत के लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज में वजीरएक्स, ज़ेबपे, कॉइनडीसीएक्स, कॉइन स्विच कुबेर एवं यूनोकॉइन शामिल है। कॉइनबेस जैसे विदेशी क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज में भी खाता खुलवाकर क्रिप्टोकरेंसी में तेजी का फायदा उठा सकते हैं। कॉइनबेस अमेरिकी शेयर बाजार में सूचीबद्ध है और भारत में भी अपना कारोबार फैला रहा है।

(डिस्क्लेमर: यह सूचना सिर्फ जानकारी के लिए दी गई है। इसे बिटकॉइन या किसी भी क्रिप्टोकरेंसी में निवेश की सलाह ना मानें। निवेश करते समय स्वतंत्र फैसला लें।)
 

संबंधित लेख