Central Consumer Protection Authority slaps notice on Lotus 365 nawazuddin siddiqui urvashi rautela for misleading ad in hindi

Misleading Ad CCPA Notice: सेंट्रल कंस्यूमर प्रोटेक्शन अथॉरिटी (CCPA) ने गेमिंग फर्म लोटस 365 के साथ ही नवाजुद्दीन सिद्दीकी और उर्वशी रौतेला समेत तीन फेमस सिलेब्रिटीज से मिसलीडिंग ऐड्स मामले में जवाब मांगा है।

CCPA Notice nawazuddin siddiqui urvashi rautela

Misleading Ad CCPA Notice: उपभोक्ता संरक्षण निगरानी संस्था (CCPA) ने गेमिंग कंपनी लोटस 365 के साथ ही ऐक्टर अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी और ऐक्ट्रेस उर्वशी रौतेला समेत तीन मशहूर हस्तियों को नोटिस भेजा है। सीसीपीएन ने कहा कि ये सिलेब्रिटीज कंपनी के ‘भ्रामक विज्ञापन (Misleading Ads)’ का समर्थन करने के साथ ही इसे प्रचारित भी करते हैं। सीसीपीएन ने कार्रवाई से पहले इन सभी पक्षों की तरफ से जवाब मांगा है। सीसीपीए ने प्रकाशित विज्ञापन पर स्वत: संज्ञान लिया और इस बारे में कार्रवाई की है।

सूत्रों की मानें तो अखबारों और ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर पब्लिश ऐड्स में दावा किया है कि लोटस 365 फर्म साल 2015 से भारत का सबसे भरोसेमंद स्पोर्ट्स एक्सजेंच है। सीसीपीए ने इन दावों के सबूत और उसका समर्थन करने वाली हस्तियों से भी ब्योरा मांगा है और कहा है कि सिलेब्रिटीज इन फर्म का समर्थन करने से पहले जवाब दें कि उन्होंने कंपनी के दावों को कैसे सही पाया। ऑनलाइन न्यूज साइट TOI की मानें तो सीसीपीए ने इस बात पर भी ध्यान दिया है कि विज्ञापन में ‘इस खेल में वित्तीय जोखिम है और इसकी लत लग सकती है’ जैसे डिस्क्लेमर  इतने छोटे अक्षरों में डाले जाते हैं कि इसपर उपभोक्ताओं का ध्यान कैसे आकर्षित होगा? इसपर कंपनी से प्रतिक्रिया मांगी गई है।

इस मामले में उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने मशहूर हस्तियों को उत्पादों या सेवाओं का समर्थन करते समय विशिष्ट बकाया पूरा करने के लिए कहा था। इसके साथ ही यह भी कहा गया था कि सामान, उत्पाद या सेवा के बारे में ऐड करने से पहले उस बारे में पर्याप्त और सही जानकारी होनी चाहिए। भ्रामक विज्ञापनों का समर्थन करने वाली हस्तियों के खिलाफ 10 लाख रुपये तक के जुर्माने की भी बात कही गई है। बार-बार अपराध करने पर सीसीपीए 50 लाख रुपये तक का जुर्माना लगा सकती है और साथ ही ऐसा करते पाए जाने पर भविष्य में बैन भी लगाया जा सकता है।

संवादपत्र

संबंधित लेख