अपनी नेट वर्थ की गणना कैसे करें? किसी इंसान के पास आमतौर पर कितनी नेट वर्थ होनी चाहिए?

आपकी नेट वर्थ आपकी वित्तीय स्थिति की एक व्यापक तस्वीर पेश करती है। इसलिए अपनी नेट वर्थ को जानना किसी भी इंसान के लिए जरूरी है। यह आपको विभिन्न लघु और दीर्घकालिक लक्ष्यों के लिए बेहतर योजना बनाने में मदद करती है।

आपकी नेट वर्थ क्या है

समय समय पर अपनी नेट वर्थ पर नजर रखना आपकी वित्तीय सेहत को समझने और धन प्रबंधन के साथ आपकी प्रगति को देखने का एक शानदार तरीका है। इसकी गणना कैसे करेंगे, यह जानने के लिए इस लेख को पढ़ें। 

नेट वर्थ क्या होता है? 

व्यक्तिगत नेट वर्थ आपकी सभी संपत्तियों और देनदारियों की एक सूची होती है। यदि आप अपने पास मौजूद हर चीज़ का मूल्य जोड़ते हैं और उसमें से अपना सारा बकाया घटाते हैं, तो यह आपको शुद्ध सकारात्मक या नकारात्मक नेट वर्थ का संकेत देगा।

कोई भी इंसान समय के साथ विरासत, विवेकपूर्ण बचत और निवेश के साथ सकारात्मक नेट वर्थ बनाता है। हालांकि अक्सर देखा जाता है कि छात्र ऋण वाले युवा पेशेवर, उद्यमी या ऐसे लोग जो बड़े लोन लेते हैं, वे नकारात्मक नेट वर्थ बनाते हैं। जैसे ही आप इन ऋणों का भुगतान करते हैं या उसकी लागत की रिकवरी करते हैं, आपकी नेट वर्थ धीरे-धीरे अच्छी स्थिति में आती जाती है। 

अपनी नेट वर्थ की गणना कैसे करें?

पहली बार जब आप इसकी गणना की कोशिश करेंगे, तो हो सकता है काफी समय लगे। ऐसा इसलिये क्योंकि इसके लिए आपको अपने हरेक प्रमुख वित्तीय निवेश और उसके वर्तमान बाजार मूल्य पर जानकारी इकट्ठा करने की जरूरत होती है। ऐसा करते समय आपको यह भी ध्यान रखना होगा कि क्या आप केवल अपनी व्यक्तिगत नेट वर्थ की गणना करना चाहते हैं या अपने परिवार की नेट वर्थ की भी। इसके लिए स्प्रेडशीट बनाएं और सभी प्रविष्टियों को मुख्य शीर्षक के अंतर्गत लिखें।

सबसे पहले अपनी सभी संपत्तियों को वर्गीकृत करें(ए):

  • तरल संपत्ति: इसमें हाथ में पैसे और बचत खाते की शेष राशि, जमा प्रमाणपत्र, मुद्रा बाजार निवेश, ट्रेजरी बिल आदि के बराबर नकदी शामिल है।
  • निवेश: बांड, वार्षिकी, म्युचुअल फंड, स्टॉक, सेवानिवृत्ति खातों में जमा, जीवन बीमा का नकद मूल्य, अन्य वैकल्पिक संपत्ति जैसे परिसंपत्ति वर्गों का बाजार मूल्य।
  • ठोस (मूर्त) संपत्ति: जमीन, घर, दुकान, वाणिज्यिक परिसर, अवकाश गृह आदि सहित सभी प्रकार की अचल संपत्ति। अन्य भौतिक संपत्ति जैसे सोना और कीमती आभूषण, कला और प्राचीन वस्तुएं, संग्रहणीय वस्तुएं, कार, घरेलू प्रौद्योगिकी, फर्नीचर और फिटिंग्स।
  • नहीं छूने योग्य (अमूर्त) संपत्ति: अमूर्त संपत्ति में किसी भी कॉपीराइट, पेटेंट, ट्रेडमार्क या ब्रांड, सद्भावना और/या बौद्धिक संपदा का मूल्य शामिल है।

इसके बाद, सभी बकाया ऋणों और देनदारियों (एल) को वर्गीकृत करें:

  • सुरक्षित ऋण: ऐसे ऋण में गिरवी रखने या गारंटर की जरूरत होती है; जैसे बकाया बंधक (मॉर्गेज), ऑटो ऋण, व्यवसाय ऋण, छात्र ऋण आदि।
  • असुरक्षित ऋण: इस श्रेणी में व्यक्तिगत ऋण, क्रेडिट कार्ड देय राशि, भुगतान नहीं किए गए कर और अन्य देनदारियां शामिल हैं। आप अपनी नेट वर्थ को बढ़ाने के लिए जल्दी से ऐसे कर्ज या देनदारी से मुक्त होना सीखें। 

सभी सुरक्षित और असुरक्षित ऋणों का योग आपकी कुल बकाया देनदारी का प्रतिनिधित्व करता है। अपनी कुल संपत्ति प्राप्त करने के लिए अपनी संपत्ति के मूल्य से अपनी सभी देनदारियों के मूल्य को घटाएं।

आपकी कुल नेट वर्थ = सभी संपत्तियां (ए) – सभी देनदारियां (एल)

ध्यान में रखने वाली बातें

कुछ प्रविष्टियां-जैसे घर या कार - यदि आपने ऋण लिया है तो संपत्ति और देनदारी दोनों हो सकती हैं। ऐसे परिदृश्य में, घर का बाजार मूल्य या कार का मूल्यह्रास मूल्य परिसंपत्ति श्रेणी में जाएगा और बकाया बंधक या ऋण सुरक्षित देयता अनुभाग में जाएगा। यह आपको संपत्ति के मूल्य के साथ-साथ उस पर आपके द्वारा देय राशि पर नजर रखने में मदद करेगा।

कुछ संपत्तियों, जो अस्थिरता या कथित मूल्य निर्धारण के अधीन हो सकती हैं, का मूल्यांकन करते समय रूढ़िवादी दृष्टिकोण अपनाने की सलाह दी जाती है। उदाहरण के लिए, कला और प्राचीन वस्तुओं का मूल्यांकन तब तक चुनौतीपूर्ण होता है जब तक कि आपको ऐसा करने के लिए पेशेवर मूल्यांकनकर्ता न मिल जाए। फिर भी, आपको शायद मूल्यांकन मूल्य के लगभग 70 प्रतिशत पर उनका अनुमान लगाना चाहिए, क्योंकि इसकी बिक्री योग्य कीमत अप्रत्याशित बनी हुई रहती है।

अपनी नेट वर्थ जानना क्यों महत्वपूर्ण है?

  • आपकी नेट वर्थ आपकी वित्तीय स्थिति की एक व्यापक तस्वीर पेश करती है।   
  • आपका सभी वित्तीय डेटा एक ही स्थान पर आसानी से उपलब्ध कराती है।
  • यह विभिन्न लघु और दीर्घकालिक लक्ष्यों के लिए बेहतर योजना बनाने में मदद करती है। 
  • वार्षिक आधार पर अपने नेट वर्थ विवरण की समीक्षा करना एक वित्तीय बेंचमार्क सेट करता है और आपको अपनी प्रगति का आकलन करने में मदद करती है।
  • यह बड़ा ऋण या अंतरराष्ट्रीय वीज़ा की तलाश में एक मजबूत मामला पेश करने में मदद कर सकती है।
  • यह महंगे ऋण के पुनर्भुगतान को प्राथमिकता देने या पुनर्वित्त विकल्पों का मूल्यांकन करने में मदद करती है।
  • यह अधिक बचत और निवेश करने के लिए प्रोत्साहन के रूप में कार्य करती है।

किसी के पास आमतौर पर कितनी नेट वर्थ होनी चाहिए?

हरेक इंसान की अलग-अलग कमाई की क्षमता, अलग-अलग खर्च और अलग जीवन शैली होती है। इसलिए, किसी की नेट वर्थ को लेकर कोई बेंचमार्क तय नहीं किया जा सकता है। हालांकि, 'द मिलियनेयर नेक्स्ट डोर' पुस्तक के लेखक थॉमस स्टेनली और विलियम डैंको एक ऐसा फॉर्मूला लेकर आए हैं, जो आपकी उम्र और आय के आधार पर बचत और निवेश की उम्मीद को निर्धारित करने में मदद करता है। 

नेट वर्थ = (उम्र x कर देने से पहले की कमाई) / 10

उदाहरण के लिए, यदि आप 12,00,000 रुपये के सीटीसी के साथ 30 वर्षीय पेशेवर हैं, तो आपकी सभी बचत और संपत्ति का कुल मूल्य 30 x 12,00,000/10 = 36,00,000 रुपये होना चाहिए।

हालांकि, नेट वर्थ का ये अनुमान उन लोगों के लिए काम नहीं कर सकता है जो बहुत युवा (सीमित कमाई की क्षमता) हैं और जो बहुत बुजुर्ग (स्थिर आय की कमी) हैं। यह फॉर्मूला 25 से 55 वर्ष के आयु वर्ग के लोगों के लिए जरूर एक बेंचमार्क प्रदान कर सकता है। 

https://www.tomorrowmakers.com/financial-planning/how-turn-those-idle-assets-monetary-gains-infographic2 

M Stock

संवादपत्र

संबंधित लेख