पीएमएवाई के तहत ब्याज सब्सिडी के लिए आवेदन कैसे करें?

भारत सरकार ने 2022 तक सभी के लिए आवास सुनिश्चित करने के लिए पीएमएवाई योजना शुरू की थी। इस योजना के तहत ब्याज सब्सिडी कैसे प्राप्त करें, इसको जानने के लिए इस लेख को पढ़ें।

क्या आप प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) की ब्याज सब्सिडी के लिए योग्य हैं?

हममें से भला कौन नहीं घर का मालिक बनना चाहता है। लेकिन, इसके लिए बहुत ज्यादा पैसों की जरूरत की वजह से हर किसी का ये सपना पूरा होना आसान नहीं है। इसी को देखते हुए भारत सरकार ने लोगों के इस सपने को साकार करने में मदद करने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) योजना शुरू की थी।

पीएमएवाई के तहत पर्यावरण के अनुकूल सामग्री का उपयोग करके खास क्षेत्रों में किफायती घरों का निर्माण किया जा रहा है। क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (सीएलएसएस) के तहत ब्याज सब्सिडी एक अनूठी विशेषता है। यह लेख पीएमएवाई योजना के बारे में आपको जो कुछ भी जानने की जरूरत है, उस पर चर्चा करेगा।

2015 में शुरू की गई पीएमएवाई योजना का लक्ष्य 2022 तक सभी के लिए किफायती आवास प्रदान करना है। न्यूनतम प्रदूषण और कम से कम पर्यावरणीय क्षति सुनिश्चित करने के लिए घरों को पर्यावरण के अनुकूल सामग्री का उपयोग करके बनाया जा रहा है। इस योजना में झुग्गी-झोपड़ी में रहने वालों सहित शहरी गरीब आबादी की आवास आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए कई प्रोत्साहन और उपाय हैं।

क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी योजना (सीएलएसएस) क्या है?

सीएलएसएस आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्लूएस), निम्न आय वर्ग (एलआईजी) और मध्यम आय समूह (एमआईजी) के लिए पीएमएवाई के तहत दिया जाने वाला लाभ है। यह योजना इन वर्गों को ब्याज सब्सिडी के कारण कम ईएमआई के साथ होम लोन प्राप्त करने में सक्षम बनाती है।

यह सब्सिडी मूलधन पर लाभार्थी को अग्रिम रूप से जमा की जाती है। नतीजतन, प्रभावी होम लोन और ईएमआई कम हो जाते हैं, जिससे घर अधिक किफायती हो जाते हैं। सब्सिडी महत्वपूर्ण रूप से आवेदक की आय श्रेणी और वित्तपोषित संपत्ति के आकार पर निर्भर करती है।

संबंधित: आर्थिक विकास और वित्तीय स्थिरता में सहायता के लिए 7 सरकारी योजनाएं जिनसे आप लाभ उठा सकते हैं

पीएमएवाई के तहत सब्सिडी का लाभ कैसे उठाएं?

अगर आप सब्सिडी के लिए पात्र हैं, तो ऑफलाइन या ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। सब्सिडी के लिए किसी सीएससी (कॉमन सर्विस सेंटर) के माध्यम से ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं, जो सरकारी सेवाएं प्रदान करता है। यदि आप सब्सिडी के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं, तो आधिकारिक पीएमएवाई पोर्टल पर जाएं।

पीएमएवाई के तहत होम लोन सब्सिडी प्राप्त करने के लिए आपको जिन चरणों का पालन करना चाहिए, वे यहां दिए गए हैं:

  • अपनी आय श्रेणी निर्धारित करें: सबसे पहले, आपको यह पता करना होगा कि आप किस आय वर्ग के अंतर्गत आते हैं। आप ईडब्ल्यूएस, एलआईजी या एमआईजी से संबंधित हैं या नहीं, इस पर ही निर्भर करेगा कि आप कितने कारपेट एरिया के घर के लिए योग्य हैं।
  • आधिकारिक ऑनलाइन पोर्टल पर जाएं: एक बार जब आपको पता चल जाए कि आप किस श्रेणी में आते हैं, तो सब्सिडी के लिए आधिकारिक ऑनलाइन पोर्टल पर आवेदन करें। इसके लिए पोर्टल के मेनू सेक्शन के 'नागरिक मूल्यांकन' विकल्प पर क्लिक करें।
  • अपना ऋण आवेदन भरें: सभी आवश्यक विवरण भरते हुए अपने ऋण आवेदन के साथ आगे बढ़ें। आपको कई दस्तावेज जमा करने होंगे, जैसे आय प्रमाण, संपत्ति विवरण, आयु प्रमाण, निवेश विवरण। इसके साथ ही कई घोषणाएं भी करनी होंगी। 

फॉर्म को पूरा करने के बाद इसका प्रिंट आउट लेकर सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ अपने नजदीकी सीएससी और बैंक में जमा कर दें।

संबंधित: सब्सिडी भारत के लिए अच्छी है या बुरी?

आखिरी शब्द

पीएमएवाई की शुरुआत समाज के विभिन्न वर्गों में सभी के लिए आवास सुनिश्चित करने के लिए की गई थी। सरकार दो करोड़ घरों का निर्माण कर 2022 तक घर का मालिक बनाने को बढ़ावा देना चाहती थी। अब तक एक करोड़ से अधिक घरों के लिए मंजूरी दी जा चुकी है। यह देखना दिलचस्प होगा कि यह योजना 2022 के अंत तक अपने लक्ष्यों को कितनी अच्छी तरह हासिल करती है।

संवादपत्र

संबंधित लेख