DreamFolks IPO open for subscription: ड्रीमफ़ोक्स का आईपीओ बाजार में उतरा

ड्रीमफ़ोक्स अपने टेक्नॉलोजी-ड्रिवन प्लेटफॉर्म की सहायता से यात्रियों के लिए एक बेहतर एयरपोर्ट के अनुभव की सुविधा प्रदान करता है। ड्रीमफ़ोक्स अब अपना आईपीओ लेकर बाजार में उतरा है। ड्रीमफ़ोक्स हवाई अड्डे से संबंधित सेवाओं जैसे लाउंज, भोजन और पेय पदार्थ, स्पा, ट्रांजिट होटल या नैप रूम एक्सेस, और बैगेज ट्रांसफर जैसी सेवाओं के शानदार अनुभव देने के लिए जाना जाता है।

IPO open for subscription

DreamFolks IPO: बुधवार 24 अगस्त को दलाल स्ट्रीट में ड्रीमफ़ोक्स सर्विसेज के आईपीओ को एयरपोर्ट सर्विस एग्रीगेटर के तहत उतारा जाएगा। अपने उद्घाटन के लिए कॉर्पोरेशन द्वारा पेश की गई कीमत ₹308 प्रति शेयर से ₹326 प्रति शेयर है। निवेशकों को प्रपोज़्ड प्राइमरी के लिए 26 अगस्त यानी शुक्रवार तक का समय दिया गया है।

इस कंपनी के प्रवर्तक (प्रमोटर) लिबर्था पीटर कलात, दिनेश नागपाल और मुकेश यादव हैं। उन्होंने बाजार में 1,72,42,368 इक्विटी शेयर उतारे हैं जिनकी आईपीयू के मद्देनज़र दो रुपए प्रति यूनिट की फेस वैल्यू होगी। 

इसके चलते निवेशक कम से कम 46 इक्विटी शेयर या उसके गुणांक (मल्टीप्लायर) के हिसाब सेे बोली लगा सकेंगे। 23 अगस्त को एंकर बुक जारी की जाएगी। इस इश्यू से होनेवाली आय को कंपनी के शेयर की बिकवाली करनेवाले शेयरधारकों में उनके सही अनुपात में बांट दिया जाएगा, और कोई भी राशि सीधे तौर पर कंपनी को नहीं जाएगी। 

यह भी पढ़ें: टीटीएमएल के शेयर ने एक लाख को 39 लाख कर दिया

संस्थागत निवेशक खरीद सकते हैं 75% तक का स्टॉक 

बाजार में अभी तक इस क्षेत्र में इस कंपनी का कोई प्रतिस्पर्धी लिस्टेड नहीं है। यह कंपनी तकनीकी सहायता से यात्रियों को हवाई अड्डों पर बेहतर अनुभव और सुख-सुविधा मुहैया कराती है। कंपनी की एसेट-लाइट कार्यपद्धति विभिन्न हवाई अड्डों के लाउंज ऑपरेटर को अंतरराष्ट्रीय कार्ड के नेटवर्क (क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड जारी करनेवाली कंपनियों) और अन्य कॉर्पोरेट ग्राहकों की सहायता से एक-दूसरे से जोड़ती है, जिसमें एयरलाइन्स कॉर्पोरेशन भी शामिल हैं। कंपनी द्वारा हवाई अड्डों के लाउंज में भोजन, पेय पदार्थ, स्पा सुविधाएँ, हवाई अड्डों के बीच स्थानांतरण, ट्रांजिट मोटल, ‘नैप रूम’ (सोने के लिए कमरा) साथ ही सामान के हस्तांतरण जैसी कई सेवाओं को सहज बनाया जाता है। 

ड्रीमफ़ोक्स कंपनी का राजस्व वित्त वर्ष 2017 में  ₹98.7 करोड़ था, जो 55% चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि की दर से बढ़कर वित्त वर्ष 2020 में ₹367.04 करोड़ हो गया।

31 मार्च 2022 को प्राप्त आंकड़ों के अनुसार कंपनी ने इस वित्तीय वर्ष में कुल ₹283.99 करोड़ की बिक्री की है और ₹16.25 करोड़ का शुद्ध लाभ दर्ज किया है। इसके पहले के वर्ष में कंपनी ने 1.45 करोड़ रुपए का शुद्ध नुकसान झेला था जबकि उसने ₹108.11 का राजस्व अर्जित किया था। संस्थागत निवेशक मुहैया कराए गए स्टॉक का 75% तक खरीद सकते हैं जबकि गैर-संस्थागत निवेशक अपनी पात्रता के अनुसार 15% तक का स्टॉक खरीद सकते हैं। खुदरा या रिटेल निवेशक को 10% तक का शेयर उपलब्ध हो सकेगा।

यह भी पढ़ें: 13 गुना उछला टाटा की इस कंपनी का प्रॉफिट, इसी शेयर ने राकेश झुनझुनवाला को बनाया था 'बिग बूल'

ड्रीमफोक्स सर्विसेस एपीओ के बारे में जानें

M Stock

संवादपत्र

संबंधित लेख