Latest about Jhunjhunwala Portfolio

यदि आप झुनझुनवाला पोर्टफोलियो के अनुसार निवेश करना पसंद करते हैं तो आपके लिए जानकारी देना चाहेंगे कि रेखा झुनझुनवाला ने टाटा ग्रुप में अपनी हिस्सेदारी बढ़ा ली है।

झुनझुनवाला टाटा ग्रुप हिस्सेदारी

Jhunjhunwala Portfolio: हाल ही में दिग्गज निवेशक रेखा झुनझुनवाला ने अपने पोर्टफोलियो में बदलाव किया है। यह बदलाव टाटा ग्रुप में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाते हुए किया गया है। टाटा कम्युनिकेशंस में उनकी हिस्सेदारी अब 1.79% तक पहुँच चुकी है। लेकिन उसके पहले जानते हैं कि टाटा ग्रुप की कंपनी टाटा कम्युनिकेशंस का शेयर बाजार में प्रदर्शन कैसा है?

टाटा कम्युनिकेशंस का शेयर बाजार प्रदर्शन 

टाटा कम्युनिकेशंस टाटा ग्रुप की एक चर्चित और भरोसेमंद कंपनी है। पिछले छह महीने में यदि शेयर बाजार में उसके प्रदर्शन पर गौर करें तो हम पाएँगे कि टाटा ग्रुप के स्टॉक में 41.73% का उछाल आया है। इस तेजी के चलते महीने भर के भीतर टाटा कम्युनिकेशंस इस कंपनी ने अपने पोजिशनल निवेशकों को 1.9% का मुनाफा कमा कर दिया है। 

इसके साथ कंपनी के पिछले 52 हफ्तों के प्रदर्शन पर नजर डालें तो 52 हफ्तों का सबसे उच्च स्तर ₹1591.95 रहा है। वहीं, अगर 52 हफ्तों के सबसे निम्न स्तर की बात करें तो यह ₹856.25 रहा है। 

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

टाटा कम्युनिकेशंस के शेयर होल्डिंग पैटर्न 

रेखा झुनझुनवाला ने टाटा कम्युनिकेशंस में अपनी हिस्सेदारी बढ़ा ली है। चालू वित्त वर्ष 2022-23 की सितंबर माह की तिमाही तक टाटा कम्युनिकेशंस में झुनझुनवाला की हिस्सेदारी 1.61% तक थी। इस हिस्सेदारी में इसी वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में उन्होंने 0.18% की बढ़ोतरी की है और अब यह हिस्सेदारी बढ़कर 1.79% तक पहुँच गई है। गौरतलब है कि शेयर होल्डिंग पैटर्न में उन्हीं निवेशकों के नाम दर्शाए जाते हैं जिनकी कंपनी में शेयर होल्डिंग 1% से अधिक हो।

इस हिस्सेदारी के साथ टाटा कम्युनिकेशंस के शेयर होल्डिंग पैटर्न के हिसाब से रेखा झुनझुनवाला 51,00,687 शेयर्स की मालिक है। 

सितंबर 2022 तक उनके अधिकार में 45,75,687 शेयर्स थे। अपने निवेश को बढ़ाते हुए उन्होंने टाटा कम्युनिकेशंस के 5,25,000 शेयर्स और खरीदे हैं। यह खरीदारी अक्टूबर से दिसंबर के महीने की तिमाही के दौरान की गई थी। चालू वित्त वर्ष 2022-23 की आखिरी तिमाही की शुरुआत में ही अब उनकी हिस्सेदारी 1.79% पहुँच चुकी है।  

यह भी पढ़ेंमार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

संवादपत्र

संबंधित लेख