Wonders done by10 small stocks, investors became rich!: 10 छोटे शेयरों ने किया कमाल, निवेशक हुए मालामाल!

माइक्रोकैप शेयरों ने अक्टूबर में अपने निवेशकों की झोली भर दी

माइक्रोकैप शेयरों

Microcap stocks: अक्टूबर के महीने में शेयर मार्केट में काफी उथल-पुथल जारी रही। हेडलाइन इंडेक्स के मुकाबले ब्रॉडर मार्केट्स का प्रदर्शन बहुत कमजोर रहा। पर इसी दौरान कई माइक्रोकैप शेयरों ने अपने निवेशकों पर मुनाफ़े की बरसात कर लोगों को हैरानी में डाल दिया। इन शेयरों का मार्केट कैप 200 करोड़ रुपए से भी कम है पर इन शेयरों ने मल्टीबैगर यानी कई गुना मुनाफ़ा दिया है।

शेयर मार्केट में अक्टूबर के महीने में काफी तेजी देखी गई। पिछले महीने बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स लगभग 3300 अंक ऊपर चढ़ा था। ब्रॉडर मार्केट्स का प्रदर्शन हेडलाइन इंडेक्सों से बहुत पीछे रहा पर कई छोटे शेयरों ने आश्चर्यजनक तेज़ी दिखाई किया। 200 करोड़ रुपए से कम मार्केट कैप वाले कई माइक्रोकैप शेयरों ने अपने निवेशकों की कई गुना मुनाफ़ा दिया। इन शेयरों ने अक्टूबर में अपने निवेशकों को 172 प्रतिशत तक मुनाफ़ा दिया। इनमें कई अपरिचित कंपनियां भी शामिल हैं जिनका लोगों ने शायद नाम भी न सुना हो। तो पहले इन्हीं कंपनियों शेयरों के बारे में बात करते हैं।

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

अक्टूबर में सबसे अधिक मुनाफ़ा देनेवाली कंपनियाँ

अक्टूबर में अपने निवेशकों को सबसे अधिक मुनाफ़ा देनेवाली इन कंपनियों में के एंड आर रेल इंजीनियरिंग सबसे ऊपर है। अक्टूबर में इस कंपनी के शेयरों के भाव में 172 प्रतिशत तेजी आई। जहाँ तक मार्केट कैप की बात है, इस कंपनी का मार्केट कैप केवल 120 करोड़ रुपए है। यह इंजीनियरिंग, डिजाइन और कंस्ट्रक्शन यानी ईडीसी की कंपनी है। फिलहाल इसके शेयर की कीमत 76.05 रुपए पर पहुँच गई है। 

इस सूची में दूसरे स्थान पर है सारदा प्रोटीन्स। कुल 43 करोड़ रुपए के मार्केट कैप वाली यह कंपनी खाद्य तेल का कारोबार करती है। 30 सितंबर को इस कंपनी के शेयर के दाम 93.8 रुपए थे, जो एक महीने में यानी 31 अक्टूबर को 236.35 रुपए हो गए। इसका मतलब है कि इस कंपनी ने अक्टूबर में 152 प्रतिशत मुनाफ़ा दिया। 

चमड़ा और चमड़े के प्रॉडक्ट्स बनाने वाली कंपनी वेल्टरमैन इंटरनेशनल तीसरे स्थान पर है इसके शेयरों में अक्टूबर में 152 प्रतिशत की तेजी आई।

इसके अलावा इस सूची में जो कंपनियां शामिल हैं, उनमें दिल्ली की टेक्सटाइल कंपनी ऑल्स्टोन टेक्सटाइल चौथे स्थान पर है। इस कंपनी के शेयर अक्टूबर में 151 प्रतिशत ऊपर गए। 

इंजीनियरिंग कंपनी गुजरात टूलरूम ने अपने निवेशकों को, अक्टूबर में 150 प्रतिशत मुनाफ़ा दिया। इस कंपनी का शेयर 31 अक्टूबर को 67.6 रुपए पर पहुंच गया।

पिछले महीने स्टील का कारोबार करनेवाली कंपनी, नारायणी स्टील के शेयरों में भी 150 प्रतिशत तेजी आई। 30 सितंबर को इसके शेयरों की कीमत 25 रुपए थी जो अक्टूबर में 63 रुपए तक पहुंच गई। इस कंपनी का मार्केट कैप केवल तीन करोड़ रुपए है। 
काकतीय टेक्सटाइल्स के शेयरों में बीते महीने 148 प्रतिशत की तेजी आई। इस कंपनी का मार्केट कैप 54 करोड़ रुपए है। यह कंपनी सूती धागे बनाती और बेचती है।

एग्रो प्रॉडक्ट्स का एक्सपोर्ट और लोकल ट्रेडिंग करनेवाली कंपनी आरटी एक्सपोर्ट्स के शेयरों ने अक्टूबर के महीने में 147 प्रतिशत मुनाफ़ा दिया है। अक्टूबर में लीजर और हॉस्पिटैलिटी उद्योग की कंपनी वेस्ट लीजर रिजॉर्ट्स के शेयरों में 147 प्रतिशत तेजी आई है। 173 करोड़ रुपए के मार्केट कैप वाली कंपनी आरएमसी स्विचगेयर्स के शेयरों में, अक्टूबर में 146 प्रतिशत तेजी आई है। कंपनी एनर्जी मीटर के लिए एनक्लोजर, लो टेंशन-हाई टेंशन डिस्ट्रीब्यूशन बॉक्स और पैनल बनाती है।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Microcap stocks: अक्टूबर के महीने में शेयर मार्केट में काफी उथल-पुथल जारी रही। हेडलाइन इंडेक्स के मुकाबले ब्रॉडर मार्केट्स का प्रदर्शन बहुत कमजोर रहा। पर इसी दौरान कई माइक्रोकैप शेयरों ने अपने निवेशकों पर मुनाफ़े की बरसात कर लोगों को हैरानी में डाल दिया। इन शेयरों का मार्केट कैप 200 करोड़ रुपए से भी कम है पर इन शेयरों ने मल्टीबैगर यानी कई गुना मुनाफ़ा दिया है।

शेयर मार्केट में अक्टूबर के महीने में काफी तेजी देखी गई। पिछले महीने बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स लगभग 3300 अंक ऊपर चढ़ा था। ब्रॉडर मार्केट्स का प्रदर्शन हेडलाइन इंडेक्सों से बहुत पीछे रहा पर कई छोटे शेयरों ने आश्चर्यजनक तेज़ी दिखाई किया। 200 करोड़ रुपए से कम मार्केट कैप वाले कई माइक्रोकैप शेयरों ने अपने निवेशकों की कई गुना मुनाफ़ा दिया। इन शेयरों ने अक्टूबर में अपने निवेशकों को 172 प्रतिशत तक मुनाफ़ा दिया। इनमें कई अपरिचित कंपनियां भी शामिल हैं जिनका लोगों ने शायद नाम भी न सुना हो। तो पहले इन्हीं कंपनियों शेयरों के बारे में बात करते हैं।

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

अक्टूबर में सबसे अधिक मुनाफ़ा देनेवाली कंपनियाँ

अक्टूबर में अपने निवेशकों को सबसे अधिक मुनाफ़ा देनेवाली इन कंपनियों में के एंड आर रेल इंजीनियरिंग सबसे ऊपर है। अक्टूबर में इस कंपनी के शेयरों के भाव में 172 प्रतिशत तेजी आई। जहाँ तक मार्केट कैप की बात है, इस कंपनी का मार्केट कैप केवल 120 करोड़ रुपए है। यह इंजीनियरिंग, डिजाइन और कंस्ट्रक्शन यानी ईडीसी की कंपनी है। फिलहाल इसके शेयर की कीमत 76.05 रुपए पर पहुँच गई है। 

इस सूची में दूसरे स्थान पर है सारदा प्रोटीन्स। कुल 43 करोड़ रुपए के मार्केट कैप वाली यह कंपनी खाद्य तेल का कारोबार करती है। 30 सितंबर को इस कंपनी के शेयर के दाम 93.8 रुपए थे, जो एक महीने में यानी 31 अक्टूबर को 236.35 रुपए हो गए। इसका मतलब है कि इस कंपनी ने अक्टूबर में 152 प्रतिशत मुनाफ़ा दिया। 

चमड़ा और चमड़े के प्रॉडक्ट्स बनाने वाली कंपनी वेल्टरमैन इंटरनेशनल तीसरे स्थान पर है इसके शेयरों में अक्टूबर में 152 प्रतिशत की तेजी आई।

इसके अलावा इस सूची में जो कंपनियां शामिल हैं, उनमें दिल्ली की टेक्सटाइल कंपनी ऑल्स्टोन टेक्सटाइल चौथे स्थान पर है। इस कंपनी के शेयर अक्टूबर में 151 प्रतिशत ऊपर गए। 

इंजीनियरिंग कंपनी गुजरात टूलरूम ने अपने निवेशकों को, अक्टूबर में 150 प्रतिशत मुनाफ़ा दिया। इस कंपनी का शेयर 31 अक्टूबर को 67.6 रुपए पर पहुंच गया।

पिछले महीने स्टील का कारोबार करनेवाली कंपनी, नारायणी स्टील के शेयरों में भी 150 प्रतिशत तेजी आई। 30 सितंबर को इसके शेयरों की कीमत 25 रुपए थी जो अक्टूबर में 63 रुपए तक पहुंच गई। इस कंपनी का मार्केट कैप केवल तीन करोड़ रुपए है। 
काकतीय टेक्सटाइल्स के शेयरों में बीते महीने 148 प्रतिशत की तेजी आई। इस कंपनी का मार्केट कैप 54 करोड़ रुपए है। यह कंपनी सूती धागे बनाती और बेचती है।

एग्रो प्रॉडक्ट्स का एक्सपोर्ट और लोकल ट्रेडिंग करनेवाली कंपनी आरटी एक्सपोर्ट्स के शेयरों ने अक्टूबर के महीने में 147 प्रतिशत मुनाफ़ा दिया है। अक्टूबर में लीजर और हॉस्पिटैलिटी उद्योग की कंपनी वेस्ट लीजर रिजॉर्ट्स के शेयरों में 147 प्रतिशत तेजी आई है। 173 करोड़ रुपए के मार्केट कैप वाली कंपनी आरएमसी स्विचगेयर्स के शेयरों में, अक्टूबर में 146 प्रतिशत तेजी आई है। कंपनी एनर्जी मीटर के लिए एनक्लोजर, लो टेंशन-हाई टेंशन डिस्ट्रीब्यूशन बॉक्स और पैनल बनाती है।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख