Surge in FII buying: एफआईआई ने की खरीद

व्यापक बाजार सूचकांक के साथ निफ्टी मिडकैप100 इंडेक्स में 0.17% की वृद्धि हुई।

Nifty Midcap

Nifty Midcap: आज सुबह बाजार खुलने पर शुरुआती दौर में निफ्टी50 32.05 अंकों से फिसला यानी उसमें 0.18% की कमी आई। इसी के साथ सूचकांक 18,113.35 अंकों पर पहुँच गया था। वहीं व्यापक बाजार सूचकांक ने अन्य सूचकांकों के चलते बेहतर प्रदर्शन किया। इसी के साथ निफ्टी मिडकैप100 इंडेक्स में भी 0.17% की बढ़ोतरी देखी गई। 

बाजार में गिरावट 

सुबह बाजार में निफ्टी50 की धीमी शुरुआत हुई। पहले सत्र में ही सूचकांक फिसला। गिरावट के लिए यूएस फेड के नीतिगत परिणामों को कारण माना जा रहा है। निफ्टी50 कल कारोबार बंद होते समय 18,145.4 पर था। लेकिन आज कारोबार 18,177.9 पर शुरू हुआ। प्रारंभिक दौर में ही इसमें 0.18% की कमी आ गई। यूएस फेड के नतीजों से इस तरह का अंदेशा जताया जा रहा था। इसका एक कारण सितंबर 2022 में अमरीका में नौकरियों की संख्या में आई अचानक बढ़ोतरी को भी माना जा रहा है। पिछली रात को दुनिया के अन्य भागों में हुए कारोबार के दौरान नैस्डेक कम्पोजिट 0.89% की गिरावट के साथ बंद हुआ। अन्य इंडेक्सों में डॉव जोन्स में 0.24% की और एसएंडपी 500 में 0.4% की कमी दर्ज की गई। 

संबंधित आलेख: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

मिडकैप100 इंडेक्स में वृद्धि 

जहाँ एक और निफ्टी50 और अन्य विदेशी इंडेक्स में गिरावट देखी गई तो दूसरी और इसी उतार-चढ़ाव के बीच निफ्टी मिडकैप100 इंडेक्स में 0.17% की बढ़ोत्तरी दर्ज हुई। अनिश्चितता भरे बाजार में मिडकैप और स्मॉलकैप ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा है। स्मॉलकैप100 इंडेक्स में भी बढ़ोतरी हुई जो कि 0.26% की रही। 

एफआईआई ने की खरीदारी

1 नवंबर को प्राप्त हुए आंकड़ों के अनुसार यह देखा जा सकता है कि जहाँ घरेलू संस्थागत निवेशक (डीआईआई) में बिकवाली देखी गई वहीं विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने खरीदारी का रुख अपनाया। विदेशी संस्थागत निवेशकों द्वारा 1 नवंबर तक ₹2609.94 करोड़ मूल्य के शेयर की खरीदारी हुई। घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) द्वारा ₹730.14 करोड़ के मूल्य के शेयर बाजार में बेचे गए। इनमें कुछ उल्लेखनीय नाम जैसे हिंडाल्को, मैक्स हेल्थकेयर और चोलामंडलम इन्वेस्टमेंट आदि उछले। उन शेयरों के नाम हैं जिनमें प्राइस वॉल्यूम ब्रेकआउट की स्थिति बनी । पूरी तालिका नीचे दी गई है।

एफआईआई ने की खरीदारी

यह जानकारी पाठकों की सुविधा के लिए दी गई है, निवेश की सलाह नहीं है। 

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

Nifty Midcap: आज सुबह बाजार खुलने पर शुरुआती दौर में निफ्टी50 32.05 अंकों से फिसला यानी उसमें 0.18% की कमी आई। इसी के साथ सूचकांक 18,113.35 अंकों पर पहुँच गया था। वहीं व्यापक बाजार सूचकांक ने अन्य सूचकांकों के चलते बेहतर प्रदर्शन किया। इसी के साथ निफ्टी मिडकैप100 इंडेक्स में भी 0.17% की बढ़ोतरी देखी गई। 

बाजार में गिरावट 

सुबह बाजार में निफ्टी50 की धीमी शुरुआत हुई। पहले सत्र में ही सूचकांक फिसला। गिरावट के लिए यूएस फेड के नीतिगत परिणामों को कारण माना जा रहा है। निफ्टी50 कल कारोबार बंद होते समय 18,145.4 पर था। लेकिन आज कारोबार 18,177.9 पर शुरू हुआ। प्रारंभिक दौर में ही इसमें 0.18% की कमी आ गई। यूएस फेड के नतीजों से इस तरह का अंदेशा जताया जा रहा था। इसका एक कारण सितंबर 2022 में अमरीका में नौकरियों की संख्या में आई अचानक बढ़ोतरी को भी माना जा रहा है। पिछली रात को दुनिया के अन्य भागों में हुए कारोबार के दौरान नैस्डेक कम्पोजिट 0.89% की गिरावट के साथ बंद हुआ। अन्य इंडेक्सों में डॉव जोन्स में 0.24% की और एसएंडपी 500 में 0.4% की कमी दर्ज की गई। 

संबंधित आलेख: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

मिडकैप100 इंडेक्स में वृद्धि 

जहाँ एक और निफ्टी50 और अन्य विदेशी इंडेक्स में गिरावट देखी गई तो दूसरी और इसी उतार-चढ़ाव के बीच निफ्टी मिडकैप100 इंडेक्स में 0.17% की बढ़ोत्तरी दर्ज हुई। अनिश्चितता भरे बाजार में मिडकैप और स्मॉलकैप ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा है। स्मॉलकैप100 इंडेक्स में भी बढ़ोतरी हुई जो कि 0.26% की रही। 

एफआईआई ने की खरीदारी

1 नवंबर को प्राप्त हुए आंकड़ों के अनुसार यह देखा जा सकता है कि जहाँ घरेलू संस्थागत निवेशक (डीआईआई) में बिकवाली देखी गई वहीं विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने खरीदारी का रुख अपनाया। विदेशी संस्थागत निवेशकों द्वारा 1 नवंबर तक ₹2609.94 करोड़ मूल्य के शेयर की खरीदारी हुई। घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) द्वारा ₹730.14 करोड़ के मूल्य के शेयर बाजार में बेचे गए। इनमें कुछ उल्लेखनीय नाम जैसे हिंडाल्को, मैक्स हेल्थकेयर और चोलामंडलम इन्वेस्टमेंट आदि उछले। उन शेयरों के नाम हैं जिनमें प्राइस वॉल्यूम ब्रेकआउट की स्थिति बनी । पूरी तालिका नीचे दी गई है।

एफआईआई ने की खरीदारी

यह जानकारी पाठकों की सुविधा के लिए दी गई है, निवेश की सलाह नहीं है। 

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख