IREDA IPO: तैयार रहिए! इस IPO पर पैसा लगाना हो सकता है फायदेमंद, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी

आईपीओ में पैसा लगाने के लिए तैयार लोगों को आने वाले दिनों में अच्छी खबर मिलने की संभावना है। केंद्र सरकार ने भारतीय नवीकरणीय ऊर्जा विकास एजेंसी (IREDA) के आईपीओ को मंजूरी दी है।

IREDA IPO

IREDA IPO: भारतीय नवीकरणीय ऊर्जा विकास एजेंसी (IREDA) का आईपीओ आने वाला है, ऐसे में जो लोग अच्छे आईपीओ में पैसा लगाकर मुनाफा कमाने की कोशिश में हैं, उनके लिए आने वाला समय अच्छा साबित हो सकता है। केंद्र की नरेंद्र मोदी कैबिनेट ने इरेडा के आईपीओ को मंजूरी दे दी है और इसके जरिये जल्द ही IREDA की शेयर मार्केट में लिस्टिंग होगी। न्यू एंड रीन्यूएबल एनर्जी मिनिस्ट्री का एक सार्वजनिक उपक्रम है।

केंद्र सरकार ने पिछले साल मार्च में इरेडा में 1500 करोड़ की पूंजी डाली थी और अब सरकार इसके आईपीओ के जरिये अपनी हिस्सेदारी बेचेगी। पूंजी जुटाने के लिए नए इक्विटी शेयर भी जारी किए जाएंगे। आधिकारिक बयान में कहा गया है कि पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने IREDA को स्टॉक मार्केट में लिस्टेड करने के लिए सहमति जताई है। ऐसे में जल्द ही इरेडा के आईपीओ आने की संभावना है।

आने वाले समय में निवेश और लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग आईपीओ की प्रक्रिया को आगे बढ़ाएगा। आपको बता दें कि भारतीय नवीकरणीय ऊर्जा विकास एजेंसी (IREDA) की स्थापना वर्ष 1987 में नवीकरणीय ऊर्जा और ऊर्जा संरक्षण परियोजनाओं को बढ़ावा देने, विकसित करने और वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए की गई थी। इरेडा अक्षय ऊर्जा संरक्षण परियोजनाओं के कुशल और प्रभावी वित्तपोषण के लिए अग्रणी संगठन के रूप में अपनी भूमिका निभाती है।

 

IREDA IPO: भारतीय नवीकरणीय ऊर्जा विकास एजेंसी (IREDA) का आईपीओ आने वाला है, ऐसे में जो लोग अच्छे आईपीओ में पैसा लगाकर मुनाफा कमाने की कोशिश में हैं, उनके लिए आने वाला समय अच्छा साबित हो सकता है। केंद्र की नरेंद्र मोदी कैबिनेट ने इरेडा के आईपीओ को मंजूरी दे दी है और इसके जरिये जल्द ही IREDA की शेयर मार्केट में लिस्टिंग होगी। न्यू एंड रीन्यूएबल एनर्जी मिनिस्ट्री का एक सार्वजनिक उपक्रम है।

केंद्र सरकार ने पिछले साल मार्च में इरेडा में 1500 करोड़ की पूंजी डाली थी और अब सरकार इसके आईपीओ के जरिये अपनी हिस्सेदारी बेचेगी। पूंजी जुटाने के लिए नए इक्विटी शेयर भी जारी किए जाएंगे। आधिकारिक बयान में कहा गया है कि पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने IREDA को स्टॉक मार्केट में लिस्टेड करने के लिए सहमति जताई है। ऐसे में जल्द ही इरेडा के आईपीओ आने की संभावना है।

आने वाले समय में निवेश और लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग आईपीओ की प्रक्रिया को आगे बढ़ाएगा। आपको बता दें कि भारतीय नवीकरणीय ऊर्जा विकास एजेंसी (IREDA) की स्थापना वर्ष 1987 में नवीकरणीय ऊर्जा और ऊर्जा संरक्षण परियोजनाओं को बढ़ावा देने, विकसित करने और वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए की गई थी। इरेडा अक्षय ऊर्जा संरक्षण परियोजनाओं के कुशल और प्रभावी वित्तपोषण के लिए अग्रणी संगठन के रूप में अपनी भूमिका निभाती है।

 

संवादपत्र

संबंधित लेख

Union Budget