From Rs 39 to Rs 104 in just 21 days मल्‍टीबैगर स्‍टॉक्‍स: इस स्‍टॉक में निवेशकों ने सिर्फ मुनाफा पाया।

कोहिनूर फूड्स ने 21 दिनों में 164% रिटर्न दिया

multibagger stock

शेयर मार्केट के लिए यह साल अच्छा नहीं रहा। निफ्टी 50 पिछले साल के अभी तक के उच्चतम स्तर से लगभग 15% नीचे था। यह वर्ष ब्याज दरों में वृद्धि, उच्च मुद्रास्फीति और यूक्रेन और रूस के बीच युद्ध से त्रस्त रहा है। इससे मार्केट कमजोर हुआ है और इसलिए निवेशकों को कम रिटर्न मिला है। निफ्टी स्मॉलकैप इंडेक्स ने और भी खराब प्रदर्शन किया है, इंडेक्स में पिछले साल के पीक हिट से 30% से अधिक की गिरावट आई है।

लेकिन यदि हम कहें कि मार्केट में ऐसे भी स्‍टॉक्‍स हैं जो केवल 21 दिनों में 164% बढ़ें हैं तो कैसे होगा। आप आश्‍चर्यचकित हो जाएंगे, है ना। लेकिन कोहिनूर फूड्स, जो अधिकतम बासमती चावल के लिए जाना जाता है, शेयर मार्केट में बहुत अच्‍छा प्रदर्शन कर रहा है। यह स्‍टॉक पिछले 21 दिनों में 164% बढ़ा है। साथ ही, अप्रैल में, स्‍टॉक केवल 8 रूपये पर ट्रेड कर रहा था। इस प्रकार स्‍टॉक इस साल में अप्रैल से 1260% से अधिक बढ़ा है।

कोहिनूर फूड्स के इस तरह से बढ़ने के क्‍या कारण हैं?

6 अप्रैल 2022 को, कोहिनूर फूड्स से ट्रेडिंग पर प्रतिबंध हटा दिया गया था। तब से, यह विभिन्न अपर सर्किट पर ट्रेड कर रहा है, और पिछले 2.5 महीनों में, इनमें 1260% की भारी वृद्धि हुई है। 27 जून 2022 तक, स्टॉक 106.2 रुपये पर ट्रेड कर रहा है, जो पिछले दिन की तुलना में 4.99% अधिक है। यह दिन के लिए अपर सर्किट पर बंद हुआ है।

यह कंपनी बासमती चावल, रेडी-टू-ईट करीज़ और मील्‍स और अन्य खाद्य-संबंधित उत्पादों में डील करती है। 27 जून, 2022 तक कंपनी का मार्केट कैप 393 करोड़ रुपये है। कंपनी का मार्केट कैप कम है, और इसे स्मॉलकैप स्टॉक के रूप में वर्गीकृत किया गया है।

एनएसई ने स्पष्टीकरण मांगा

चूंकि स्टॉक में इतनी बड़ी वृद्धि देखी जा रही थी कि एनएसई ने अप्रैल में कंपनी से शेयर की कीमत में वृद्धि के संबंध में स्पष्टीकरण मांगा था। कंपनी ने जवाब दिया कि वे इस तरह की वृद्धि के कारण से अनजान थे और कहा कि वृद्धि न्‍यूज़-ड्रिवन होने के बजाय अधिक मार्केट-ड्रिवन थी। प्रबंधन ने उत्तर दिया कि उन्हें शेयर की कीमतों में वृद्धि का कारण नहीं पता है।

कंपनी अप्रैल में एक पेनी स्टॉक से धीरे-धीरे सट्टेबाजों की पसंदीदा बनती जा रही है। रिटर्न लोगों को शेयर की कीमत में रैली में शामिल होने के लिए आकर्षित कर रहे हैं। लेकिन मार्केट मूवमेंट जोखिम के अधीन है, और आपको किसी कंपनी में सिर्फ इसलिए निवेश नहीं करना चाहिए क्योंकि स्टॉक बढ़ रहा है।

निष्‍कर्ष

कोहिनूर फूड्स ने पिछले 2.5 महीनों में शानदार रिटर्न दिया है, क्योंकि ट्रेडिंग पर प्रतिबंध हटा दिया गया था। कंपनी मुख्य रूप से बासमती चावल के लिए जानी जाती है, लेकिन उसके अन्य खाद्य-संबंधित कारोबार भी हैं। स्टॉक खरीदने से पहले आपको अपना उचित मूल्‍यांकन करना चाहिए, और स्टॉक को केवल इस कारण से खरीदना कि वह ऊपर की ओर जा रहा है, निवेश का एक बुरा निर्णय हो सकता है।

संवादपत्र

संबंधित लेख