सुरक्षा को हमेशा ध्यान में रखने के लिए 2021 में यात्रा करने के दौरान 11 टिप्स

सदमादायक वर्ष 2020 के बाद रोमांचक यात्रा अनुभव पाने की लालसा है? अपनी यात्रा की योजना बनाते समय यहां कुछ अहम बातें हैं जिन्हें आप ध्यान में रखें

सुरक्षा को हमेशा ध्यान में रखने के लिए 2021 में यात्रा करने के दौरान 11 टिप्स

मनमोहक स्थानों की यात्रा करनी की ख्वाहिश रखते हैं? यात्रा करना और जीवित रहना चाहते हैं? चूंकि पर्यटन धीरे-धीरे खुल रहा है, एक वर्ष से घर पर बंद रहने के बाद हम सभी के लिए आखिरकार कुछ राहत तो मिली ही है। हालांकि, 2021 की यात्रा अपने अनोखे रूलबुक के साथ आई है। याद रखने वाली सबसे अहम चीज यह है कि भले ही अब आप बाहर जा सकते हैं, पर महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। बहुत सारी नई चीजें हैं जिनका ध्यान रखना होगा उनके लिए योजना बनानी होगी। 

चिंता न करें, हम आपकी मदद करेंगे। इस वर्ष के नए ऐडवेंचर पर निकलने से पहले कुछ अहम चीजों की एक सूची है जिनपर आपको ध्यान देना होगा।

1. कोविड-19 गाइडलाइंस पर खुद को शिक्षित करें

संसूचित यात्रा निर्णयों के लिए गहन शोध करें। आप जिस स्थान की यात्रा कर रहे हैं, वह सुरक्षित है? वहां पहुंचने के बाद वे कौन-कौन से कोविड-19 गाइडलाइंस हैं जिनका आपको पालन करना चाहिए। वहां पहुंचने के बाद क्या आपको खुद को क्वारंटाइन करने की जरूरत है? क्या सरकार द्वारा कोई यात्रा पाबंदियां भी लागू की गई हैं? यात्रा करने से पहले या आगमन के बाद क्या आपको कोविड टेस्ट करवाना होगा? क्या पर्यटकों के लिए रेस्त्रां खुले हैं? घर वापस पहुंचने पर क्या आपको खुद को क्वारंटाइन करना होगा? कुछ ऐसे प्रश्न हैं जिनके उत्तर आपको यात्रा की योजना बनाने से पहले खोजने होंगे।

2. अग्रिम रूप से योजना बनाएं 

लोगों के मन में लंबे समय से फंसे होने का एहसास है। यात्रा के शुरु होते ही, बाहर निकलने की अफरा-तफरी होगी। इस बात की उम्मीद रखें कि फ्लाइटें भरी होंगी, होटलों में जगह नहीं मिलेगी और कार रेंटल पूरी तरह से बुक होंगे। और तो और, यदि आप तत्काल यात्रा पर जाने का फ़ैसला लेते हैं, तो हर चीज काफी महंगी हो जाएगी। इसका अर्थ है कि आपकी यात्रा अच्छी रहे, यह सुनिश्चित करने के लिए आपको समय से पहले योजना बनानी होगी। हालांकि, साथ ही आपको अंतिम समय में होने वाले बदलावों के लिए भी तैयार रहना होगा। इसपर अधिक जानकारी नीचे है।

इससे जुड़ी बातें: कोविड-19: इसने यात्रा और पर्यटन को कैसे प्रभावित किया है?

3. अपने गंतव्य स्थान की स्थिति का पता लगाएं

अपनी यात्रा योजना बनाने के दौरान वह पहली चीज कौन सी है जो आपको पहले करनी होगी? सस्ती एयर टिकट खोज रहे हैं, है न? वे सभी चीजें जिनमें बदलाव होंगे। अब पहला कदम है आपके गंतव्य स्थान पर मामलों की संख्या और लागू होने वाली पाबंदियों की जानकारी रखना। पर्यटन के बहाल होने पर, कोविड-पॉजिटिव मामलों में तेजी से वृद्धि होगी। जिस स्थान की आप यात्रा करना चाहते हैं, यदि यह हाई रिस्क वाला स्थान बन गया है, तो सलाह दी जाती है कि आप इसकी बजाय स्टेकेशन को अपनाएं।

4. एक बैकअप योजना तैयार रखें

मान कर चलें कि इस बात की बहुत उम्मीद है कि आपकी यात्रा योजना में व्यवधान आ जाए। टूर रद्द हो सकते हैं, चीजें योजना के अनुरूप नहीं हो सकती हैं या आप एक स्थान में फंस सकते हैं। धैर्य आवश्यक है; प्रवाह के साथ निकलने के लिए आपको तैयार रहना चाहिए। किसी भी बुरी स्थिति के लिए तैयार रहें और एक प्लान बी बनाकर रखें। इस बात को सोच लें कि यदि फ्लाइटें बंद हो जाएंगी या आप जिस टूरिस्ट स्थान पर जा रहे हैं, वह यदि बंद हो जाए तो आप क्या करेंगे। अपने विकल्प खुला रखें। सर्वोत्तम की उम्मीद रखें पर बुरी से बुरी स्थिति के लिए तैयार रहें।

5. रिफंडेबल फ्लाइट टिकट खरीदें

कई लोग 2020 में फ्लाइट टिकट में पैसे गंवा चुके हैं या उन्हें कई महीनों के बाद सरकार के आदेश के बाद ही रिफंड मिला। चूंकि स्थिति फिर से बिगड़ रही है, हमें नहीं पता कि क्या और लॉकडाउन होंगे, यात्रा की पाबंदियां लगाई जाएंगी या कुछ हाई रिस्क वाले स्थानों में फ्लाइटों को रद्द किया जाएगा। पैसे गंवाने या एयरलाइंस में फंसने से बचने के लिए, रिफंडेबल टिकट खरीदें। स्थिति यदि और भी खराब हो, आपके पास अधिक तनाव का अनुभव किए बगैर अपने यात्रा योजनाओं को रद्द करने की आजादी होगी।

इससे जुड़ी बातें: महामारी के बाद भारत में बसने योग्य सर्वोत्तम शहर

6. ध्यान रखें कि होटल बुकिंग्स लोचशील हो

यही बात होटल बुकिंग पर भी लागू होती है। भले ही कई सारे होटल फ्री कैंसिलेशन या आपकी आगमन तिथि से पहले सात दिनों तक तिथियों में बदलाव प्रदान करते हैं, फ्री सेम-डे कैंसिलेशन पर जोर दें। महामारी की स्थिति काफी परिवर्तनशील है और इसका कोई अनुमान नहीं लगाया जा सकता, इसलिए अपने हितों की रक्षा करना बहुत जरूरी हो जाता है। अच्छी बात यह है कि होटलों को बिजनेस का इंतजार है और ऐसे में वे आपके अनुरोध पर ज्यादा ध्यान देंगे।

7. अधिक लॉकडाउन के लिए तैयार रहें

भले ही काफी बुरा दौर थम हो गया है, पर यह अभी समाप्त नहीं हुआ है। यदि मामलों की संख्या बढ़ती है, तो अधिक लॉकडाउन लगाए जाएंगे। वर्तमान में, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, केरल, पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ में कोविड-19 के सबसे अधिक ऐक्टिव मामले हैं और लॉकडाउन लगाए जा चुके हैं। यदि आप जिस स्थान की यात्रा करने जा रहे हैं वहां भी यही होता है, तो आपको अपनी यात्रा की योजना रद्द करनी होगी या अपने गंतव्य स्थान वाले देश/राज्य में फंसना होगा। अपनी यात्रा की योजना बनाते समय लॉकडाउन के लिए मानसिक रूप से तैयार रहें। 

8. यात्रा बीमा लीजिए 

यात्रा बीमा लेना हमेशा ही जरूरी होता है और इस वैश्विक महामारी के दौर में तो यह और अभी अहम हो जाता है। पॉलिसियों की तुलना करें और वह पॉलिसी लें जो न केवल अंतर्राष्ट्रीय यात्रा बीमा प्रदान करती हो, बल्कि महामारी से जुड़े कैंसिलेशन भी कवर करती हो। एक अच्छी यात्रा बीमा योजना में सभी यात्रा और यात्रा के दौरान स्वास्थ्य संबंधित आकस्मिक स्थितियों को कवर किया जाना चाहिए। जैसे कि बीमा योजना जरा अधिक महंगी हो सकती है, पर निश्चित रूप से यह अच्छी होगी। भारत में यात्रा बीमा के प्रकारों के बारे में अधिक जानकारी के लिए इसे पढ़ें।

9. किसी ट्रैवल ऐडवाइजर से सलाह लें

यदि आपको विभिन्न यात्रा आवश्यकताओं को समझने में मदद की आवश्यकता है, तो किसी ट्रैवल ऐडवाइजर से परामर्श लें। ज्यादातर परामर्शदाता या एजेंट ने पिछले कई महीने विभिन्न गाइडलाइनों, होटल और फ्लाइट पॉलिसियों, ओवरसीज ट्रैवल इंश्योरेंस और कोविड-19 विनियमों का पालन करते हुए गुजारे हैं। चीजों के विकसित होने और तेजी से बदलाव होने से वे आपको गाइड करने के लिए काफी कुशल हैं, जिससे आपकी यात्रा ज्यादा से ज्यादा सुगम हो।

इससे जुड़ी बातें: कोविड-19:अपने यात्रा आरक्षणों को रद्द करने से बेहतर रीशिड्यूलिंग कराना क्यों है

10. हमेशा सुरक्षा सावधानियां बरतें

भले ही आप ऐसे स्थान की यात्रा कर रहे हों जहां कोविड-19 के कम मामले हों, पर अपनी सतर्कता को कम न होने दें। अपनी और अपने आस-पास के लोगों की सुरक्षा के लिए सभी नियमों का पालन करें। इसका अर्थ है कि आप हमेशा मास्क लगाएंगे, बार-बार हाथ धोएंगे, आपने जिन चीजों को छुआ है उन्हें सैनिटाइज करेंगे और सामाजिक दूरी बनाए रखेंगे। यदि आप अपनी यात्रा के दौरान बीमार अनुभव करते हैं, तो अपने आप को क्वारंटाइन करें और टेस्ट करवाएं।

इससे जुड़ी बातें: महामारी के कारण अपने वित्तीय लक्ष्यों को लेकर चिंतित हैं? आपको क्या करना चाहिए यहां बताया गया है [प्रीमियम]

11. भीड़-भाड़ वाले छुट्टियों के स्थानों के लिए तैयारी करें

आपकी तरह ही अन्य लोग भी घर में रहने से ऊब चुके हैं और अब वे यात्रा करने के लिए बेताब हैं। कई लोग जिन्होंने 2020 में यात्रा की योजना बनाई थी, उन्होंने 2021 के लिए फिर से बुकिंग करवा ली है। इसका मतलब है कि लोकप्रिय यात्रा स्थलों पर काफी भीड़-भाड़ रहने की संभावना है। सामाजिक दूरी का ख्याल नहीं रखा जाएगा, खासकर भारत जैसे अधिक आबादी वाले देशों में। इससे हर वक्त मास्क पहनना और अधिक पर्यटकों की आवाजाही वाले स्थानों से दूर रखना काफी अहम हो जाता है।

2021 में यात्रा करने के लिए हमें न केवल कई नए नियमों को जानना होगा बल्कि अपने दिमाग में एक नई तस्वीर भी बना लेनी होगी। लोचशील बने रहें और महामारी से संबंधित सभी अद्यतन जानकारियों से अवगत रहें। पिछले साल से सबक लेकर हम ऐसे यात्री बनें जो खुद के बारे में, दूसरे के बारे में और प्रकृति के बारे में जागरुक रहें। क्या आपको यात्रा बीमा ऑनलाइन खरीदना चाहिए?अपने सभी प्रश्नों के उत्तर के लिए इसे पढ़ें।

संबंधित लेख