सबसे अधिक आयकर दरों वाले देश, जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए

किन देशों में आयकर की दरें सबसे अधिक हैं? यहां टॉप 10 देशों की सूची दी गई है।

सबसे अधिक कर दरों वाले टॉप 10 देश

अलग अलग देशों में कर प्रावधान अलग अलग होता है। क्या आपने कभी सोचा है कि किस देश में कर की दरें सबसे ज्यादा हैं? हम दूसरे देशों में आयकर दरों की बात करें उससे पहले आइये भारत की दरों को देखते हैं। नई कर व्यवस्था के अनुसार 2,50,000 रुपये से कम की वार्षिक आय पर कर नहीं लगता है, लेकिन इससे अधिक की कोई भी राशि कर योग्य है।

भारत में आयकर की दर सबसे कम दायरे के लिए 5 प्रतिशत से शुरू होती है और उच्च दायरे के साथ लगातार बढ़ती जाती है, सबसे अधिक 30 प्रतिशत तक। लेकिन भारत में सबसे ऊंचा आयकर दायरा क्या है? सबसे अधिक दायरा 15,00,000 रुपये से अधिक है और नई व्यवस्था के अनुसार भुगतान किया जाने वाला आयकर 15,00,000 रुपये से अधिक की कुल आय का 30 प्रतिशत है।

संबंधित: भारत में आयकर: एक दिलचस्प इतिहास 

आइए देखते हैं सबसे अधिक आयकर दर वाले टॉप 10 देशों की सूची। 

सबसे अधिक आयकर दर वाले देश

  1. फिनलैंड: फिनलैंड लंबे दिनों और लंबी रातों वालों देश है। यह ठंड के मौसम से प्यार करने वालों के लिए एक शानदार जगह है। लेकिन इससे पहले कि आप वहां बसने की योजना बनाएं, यह नहीं भूलें कि यहां आयकर की दरें काफी अधिक हैं। यहां सबसे अधिक कर 56.95 प्रतिशत वसूला जाता है। 
  1. डेनमार्क: डेनमार्क में जीवन आकर्षक तो है, लेकिन इसके लिए अधिक लागत भी चुकानी पड़ती है। यहां कर की दरें 56% तक बढ़ जाती हैं।  
  2. ऑस्ट्रिया: ऑस्ट्रिया अलग-अलग दरों पर कर वसूलता है। यहां स्लैब धीरे-धीरे निम्न-आय वाले स्लैब से उच्च आय वाले स्लैब तक बढ़ता है। यहां अधिकतम कर 55 प्रतिशत की दर से वसूला जाता है।
  3. स्वीडन: स्वीडन की उच्च जीवन प्रत्याशा दर और जीवन स्तर की रैंकिंग से पता चलता है कि यह महंगा देश है। फिलहाल यहां पर इनकम टैक्स की दर 52.9 प्रतिशत तक पहुंच जाती है।
  4. अरूबा: यह द्वीप देश है। कोई भी वहां जाना पसंद करेगा। लेकिन, वहां बसने से पहले आपको कई बार सोचना पड़ेगा, क्योंकि यहां आयकर की दर 52 प्रतिशत है।

संबंधित: नई कर व्यवस्था के तहत इन 13 आय घटकों पर छूट दी गई है

  1. पुर्तगाल: आपने विश्व इतिहास में पुर्तगाल की भूमिका के बारे में सुना होगा। यह सैलानियों को काफी लुभाता है। हालांकि, यहां 48 प्रतिशत की अधिकतम आयकर दर वसूला जाता है। अधिकतम आयकर के कारण यह अच्छी तरह से विकसित अधिक आय वाला देश है।
  2. दक्षिण कोरिया: दक्षिण कोरिया का के-पॉप और के-ड्रामा सैलानियों को काफी आकर्षित करते हैं। अगर दक्षिण कोरिया पर आपका भी प्यार उमड़ रहा है, तो वहां की व्यक्तिगत आयकर दरों को जान लें। वहां व्यक्तिगत आयकर की दर 45 प्रतिशत तक तक पहुंच जाती है।
  3. जर्मनी: जर्मनी में कर की दरें 14 प्रतिशत से शुरू होती हैं और ज्यामितीय रूप से बढ़ती हैं। अधिकतम आयकर दर 45 प्रतिशत है। 
  4. जापान: जापान अपनी तकनीकी प्रगति के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है। लेकिन 45 प्रतिशत तक की अधिकतम व्यक्तिगत आयकर दर उसकी लोकप्रियता को कम कर देती है। 
  5.  
  6. स्विट्जरलैंड: स्विट्जरलैंड निस्संदेह एक रोमांचक देश है। स्वादिष्ट पनीर और चॉकलेट की भूमि है। लेकिन, यहां 40 प्रतिशत तक आयकर चुकाना होता है।

संबंधित: क्या आपको पुरानी कर व्यवस्था चुनना चाहिए या नई?

आखिरी शब्द

आयकर हर सरकार के लिए आमदनी का सबसे महत्वपूर्ण जरिया में से एक है। जैसा कि हमने इस सूची से देखा है, अलग अलग देशों की करों की दरें काफी भिन्न हैं। सामान्य तौर पर, यूरोपीय देशों में दुनिया के बाकी हिस्सों की तुलना में अधिक कर वसूला जाता है। सौभाग्य से, भारत उच्चतम कर दरों वाले टॉप 10 देशों में शामिल नहीं है।

 

अलग अलग देशों में कर प्रावधान अलग अलग होता है। क्या आपने कभी सोचा है कि किस देश में कर की दरें सबसे ज्यादा हैं? हम दूसरे देशों में आयकर दरों की बात करें उससे पहले आइये भारत की दरों को देखते हैं। नई कर व्यवस्था के अनुसार 2,50,000 रुपये से कम की वार्षिक आय पर कर नहीं लगता है, लेकिन इससे अधिक की कोई भी राशि कर योग्य है।

भारत में आयकर की दर सबसे कम दायरे के लिए 5 प्रतिशत से शुरू होती है और उच्च दायरे के साथ लगातार बढ़ती जाती है, सबसे अधिक 30 प्रतिशत तक। लेकिन भारत में सबसे ऊंचा आयकर दायरा क्या है? सबसे अधिक दायरा 15,00,000 रुपये से अधिक है और नई व्यवस्था के अनुसार भुगतान किया जाने वाला आयकर 15,00,000 रुपये से अधिक की कुल आय का 30 प्रतिशत है।

संबंधित: भारत में आयकर: एक दिलचस्प इतिहास 

आइए देखते हैं सबसे अधिक आयकर दर वाले टॉप 10 देशों की सूची। 

सबसे अधिक आयकर दर वाले देश

  1. फिनलैंड: फिनलैंड लंबे दिनों और लंबी रातों वालों देश है। यह ठंड के मौसम से प्यार करने वालों के लिए एक शानदार जगह है। लेकिन इससे पहले कि आप वहां बसने की योजना बनाएं, यह नहीं भूलें कि यहां आयकर की दरें काफी अधिक हैं। यहां सबसे अधिक कर 56.95 प्रतिशत वसूला जाता है। 
  1. डेनमार्क: डेनमार्क में जीवन आकर्षक तो है, लेकिन इसके लिए अधिक लागत भी चुकानी पड़ती है। यहां कर की दरें 56% तक बढ़ जाती हैं।  
  2. ऑस्ट्रिया: ऑस्ट्रिया अलग-अलग दरों पर कर वसूलता है। यहां स्लैब धीरे-धीरे निम्न-आय वाले स्लैब से उच्च आय वाले स्लैब तक बढ़ता है। यहां अधिकतम कर 55 प्रतिशत की दर से वसूला जाता है।
  3. स्वीडन: स्वीडन की उच्च जीवन प्रत्याशा दर और जीवन स्तर की रैंकिंग से पता चलता है कि यह महंगा देश है। फिलहाल यहां पर इनकम टैक्स की दर 52.9 प्रतिशत तक पहुंच जाती है।
  4. अरूबा: यह द्वीप देश है। कोई भी वहां जाना पसंद करेगा। लेकिन, वहां बसने से पहले आपको कई बार सोचना पड़ेगा, क्योंकि यहां आयकर की दर 52 प्रतिशत है।

संबंधित: नई कर व्यवस्था के तहत इन 13 आय घटकों पर छूट दी गई है

  1. पुर्तगाल: आपने विश्व इतिहास में पुर्तगाल की भूमिका के बारे में सुना होगा। यह सैलानियों को काफी लुभाता है। हालांकि, यहां 48 प्रतिशत की अधिकतम आयकर दर वसूला जाता है। अधिकतम आयकर के कारण यह अच्छी तरह से विकसित अधिक आय वाला देश है।
  2. दक्षिण कोरिया: दक्षिण कोरिया का के-पॉप और के-ड्रामा सैलानियों को काफी आकर्षित करते हैं। अगर दक्षिण कोरिया पर आपका भी प्यार उमड़ रहा है, तो वहां की व्यक्तिगत आयकर दरों को जान लें। वहां व्यक्तिगत आयकर की दर 45 प्रतिशत तक तक पहुंच जाती है।
  3. जर्मनी: जर्मनी में कर की दरें 14 प्रतिशत से शुरू होती हैं और ज्यामितीय रूप से बढ़ती हैं। अधिकतम आयकर दर 45 प्रतिशत है। 
  4. जापान: जापान अपनी तकनीकी प्रगति के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है। लेकिन 45 प्रतिशत तक की अधिकतम व्यक्तिगत आयकर दर उसकी लोकप्रियता को कम कर देती है। 
  5.  
  6. स्विट्जरलैंड: स्विट्जरलैंड निस्संदेह एक रोमांचक देश है। स्वादिष्ट पनीर और चॉकलेट की भूमि है। लेकिन, यहां 40 प्रतिशत तक आयकर चुकाना होता है।

संबंधित: क्या आपको पुरानी कर व्यवस्था चुनना चाहिए या नई?

आखिरी शब्द

आयकर हर सरकार के लिए आमदनी का सबसे महत्वपूर्ण जरिया में से एक है। जैसा कि हमने इस सूची से देखा है, अलग अलग देशों की करों की दरें काफी भिन्न हैं। सामान्य तौर पर, यूरोपीय देशों में दुनिया के बाकी हिस्सों की तुलना में अधिक कर वसूला जाता है। सौभाग्य से, भारत उच्चतम कर दरों वाले टॉप 10 देशों में शामिल नहीं है।

 

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख