SEBI Permitted Vaibhav Gems and Concord Biotech IPO: सेबी ने वैभव जेम्स और कॉनकॉर्ड बायोटेक के आईपीओ को दी स्वीकृति

रेयर इंटरप्राइजेज द्वारा समर्थित कॉनकॉर्ड बायोटेक और आभूषण बनाने वाली कंपनी वैभव जेम्स अपने आईपीओ प्रस्तुत करने जा रही है।

कॉनकॉर्ड बायोटेक और वैभव जेम्स के आईपीओ

SEBI permits IPO: 2022 वर्ष की दूसरी छमाही में बहुत गतिविधियाँ देखने को मिल रही हैं, खासकर प्राइमरी मार्केट में। वहीं दूसरी तिमाही के दौरान कंपनियों के शेयर बाजार में सूचिबद्ध होने का सिलसिला चला था तो कई कंपनियाँ अपने सार्वजनिक प्रारंभिक प्रस्ताव (आईपीओ, IPO) लाने की कतार में अब भी खड़ी है। जल्द ही रेयर इंटरप्राइजेज द्वारा समर्थित कॉनकॉर्ड बायोटेक और दक्षिण भारत में क्षेत्रीय महत्त्व प्राप्त आभूषण बनाने वाली कंपनी वैभव जेम्स एन अपना आईपीओ पेश करने जा रही है। भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) द्वारा इन दोनों ही कंपनियों को स्वीकृति दे दी गई है। 

अगस्त और सितंबर माह के दौरान सेबी में आईपीओ के लिए कागजात जमा करवाए थे। सेबी ने जानकारी दी है कि इन कंपनियों को 28 नवंबर से 2 दिसंबर के बीच सार्वजनिक प्रारंभिक प्रस्ताव के रेगुलेटर ने ‘निष्कर्ष’ दे दिया था। किसी भी प्रारंभिक प्रस्ताव के लिए सेबी के ‘निष्कर्ष’ का होना अनिवार्य है। अब इसके बाद दोनों कंपनियाँ बीएसई और एनएसई पर सूचिबद्ध होंगी। 

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

कॉनकॉर्ड बायोटेक का आईपीओ 

निजी इक्विटी फर्म कवाड्रिया कैपिटल द्वारा समर्थित हेलिक्स इन्वेस्टमेंट होल्डिंग्स पीटीई लिमिटेड कॉनकॉर्ड बायोटेक के लिए 2,09,25,652 शेयरों के ऑफर फॉर सेल (OFS) के रूप में आईपीओ जारी करेगी। निवेशकों की जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि कॉनकॉर्ड बायोटेक फर्मेंटेशन बेस्ड बायोफार्मास्यूटिकल एपीआई की अग्रणी निर्माता कंपनियों में से एक है। कंपनी ओंकोलॉजी और इम्यूनोसप्रेसेंट के क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित करती है। साथ ही एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल क्षेत्र में भी उत्पादन करती है। कंपनी की गुजरात में तीन विनिर्माण इकाइयाँ हैं जो वालथेरा, ढोलका और लिंबासी में स्थित हैं।

वैभव जेम्स आईपीओ 

वैभव जेम्स ₹210 करोड़ के उद्देश्य के साथ नए शेयर सार्वजनिक प्रारंभिक प्रस्ताव के रूप में बाजार में बेचेगी। इसके साथ ही प्रमोटर एनडीटी द्वारा 43 लाख शेयरों की बिक्री ऑफर फॉर सेल के माध्यम से की जाएगी। 

आईपीओ से प्राप्त राशि का उपयोग आठ नए शोरूम खोलने में किया जाएगा जिसकी लागत लगभग ₹12 करोड़ होगी। इसके अलावा सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों और FY23 व FY24 में इन्वेंटरी की खरीद के लिए ₹160 करोड़ का इस्तेमाल किया जाएगा। 

कंपनी वैभव जेम्स का मुख्यालय विशाखापट्टनम में है और यह कंपनी सोने, हीरे-जवाहरात, प्लैटिनम और चांदी के आभूषणों एवं अन्य वस्तुओं का निर्माण करती है। कंपनी का एक प्रीमियम सेगमेंट सब-ब्रांड सोने और हीरे के आभूषणों के लिए समर्पित है।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

IPOs: Impact Of SEBI New Rules

SEBI permits IPO: 2022 वर्ष की दूसरी छमाही में बहुत गतिविधियाँ देखने को मिल रही हैं, खासकर प्राइमरी मार्केट में। वहीं दूसरी तिमाही के दौरान कंपनियों के शेयर बाजार में सूचिबद्ध होने का सिलसिला चला था तो कई कंपनियाँ अपने सार्वजनिक प्रारंभिक प्रस्ताव (आईपीओ, IPO) लाने की कतार में अब भी खड़ी है। जल्द ही रेयर इंटरप्राइजेज द्वारा समर्थित कॉनकॉर्ड बायोटेक और दक्षिण भारत में क्षेत्रीय महत्त्व प्राप्त आभूषण बनाने वाली कंपनी वैभव जेम्स एन अपना आईपीओ पेश करने जा रही है। भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) द्वारा इन दोनों ही कंपनियों को स्वीकृति दे दी गई है। 

अगस्त और सितंबर माह के दौरान सेबी में आईपीओ के लिए कागजात जमा करवाए थे। सेबी ने जानकारी दी है कि इन कंपनियों को 28 नवंबर से 2 दिसंबर के बीच सार्वजनिक प्रारंभिक प्रस्ताव के रेगुलेटर ने ‘निष्कर्ष’ दे दिया था। किसी भी प्रारंभिक प्रस्ताव के लिए सेबी के ‘निष्कर्ष’ का होना अनिवार्य है। अब इसके बाद दोनों कंपनियाँ बीएसई और एनएसई पर सूचिबद्ध होंगी। 

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

कॉनकॉर्ड बायोटेक का आईपीओ 

निजी इक्विटी फर्म कवाड्रिया कैपिटल द्वारा समर्थित हेलिक्स इन्वेस्टमेंट होल्डिंग्स पीटीई लिमिटेड कॉनकॉर्ड बायोटेक के लिए 2,09,25,652 शेयरों के ऑफर फॉर सेल (OFS) के रूप में आईपीओ जारी करेगी। निवेशकों की जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि कॉनकॉर्ड बायोटेक फर्मेंटेशन बेस्ड बायोफार्मास्यूटिकल एपीआई की अग्रणी निर्माता कंपनियों में से एक है। कंपनी ओंकोलॉजी और इम्यूनोसप्रेसेंट के क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित करती है। साथ ही एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल क्षेत्र में भी उत्पादन करती है। कंपनी की गुजरात में तीन विनिर्माण इकाइयाँ हैं जो वालथेरा, ढोलका और लिंबासी में स्थित हैं।

वैभव जेम्स आईपीओ 

वैभव जेम्स ₹210 करोड़ के उद्देश्य के साथ नए शेयर सार्वजनिक प्रारंभिक प्रस्ताव के रूप में बाजार में बेचेगी। इसके साथ ही प्रमोटर एनडीटी द्वारा 43 लाख शेयरों की बिक्री ऑफर फॉर सेल के माध्यम से की जाएगी। 

आईपीओ से प्राप्त राशि का उपयोग आठ नए शोरूम खोलने में किया जाएगा जिसकी लागत लगभग ₹12 करोड़ होगी। इसके अलावा सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों और FY23 व FY24 में इन्वेंटरी की खरीद के लिए ₹160 करोड़ का इस्तेमाल किया जाएगा। 

कंपनी वैभव जेम्स का मुख्यालय विशाखापट्टनम में है और यह कंपनी सोने, हीरे-जवाहरात, प्लैटिनम और चांदी के आभूषणों एवं अन्य वस्तुओं का निर्माण करती है। कंपनी का एक प्रीमियम सेगमेंट सब-ब्रांड सोने और हीरे के आभूषणों के लिए समर्पित है।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

IPOs: Impact Of SEBI New Rules

संवादपत्र

संबंधित लेख

Union Budget