Keep your budget in mind while shopping for the festival: त्यो हार की शॉपिंग करते समय अपने बजट का रखें ध्यान

दिवाली के उल्लास में कहीं अपना बजट न भूल जाएं।

diwali budget

Budget during Diwali: अक्सर त्योहारों के समय और खासकर दिवाली पर लोग जरूरत से अधिक खर्च कर देते हैं। बिना सोचे-समझे, जोश में आकर किया जानेवाला यह खर्च बाद में सिरदर्द बन जाता है और कई महीनों के लिए बजट बिगड़ जाता है। इसलिए ऐसे खर्च से बचना चाहिए और हिसाब से खरीदारी करनी चाहिए। खरीदारी करते समय अपने बजट का ध्यान रखना और इसके लिए पहले से एक बजट तय कर लेना आवश्यक होता है।

पिछले दो साल तक कोरोना महामारी के संकट से जूझने के कारण बाजारों में मुर्दनी छाई रही, पर इस बार त्योहारों के इस मौसम के लिए बाजार पूरी तरह सज चुके हैं। रिटेल मार्केट से लेकर ऑनलाइन प्लेटफार्म तक, सभी आपको भारी छूट और कैशबैक के ऑफर दे रहे हैं। ये आकर्षक ऑफर आपको ज्यादा खरीदारी के लिए प्रेरित कर सकते हैं। लेकिन अपने बजट के दायरे से अधिक खरीदारी आपकी आर्थिक परेशानी बढ़ा सकती है। इसलिए खरीदारी करते समय यह ध्यान रखना जरूरी है कि त्योहार के जोश में कहीं आपका बजट न बिगड़ जाए। 

वीआईवीआईएफआई इंडिया फाइनेंस के सीईओ और संस्थापक अनिल पिनापाला त्योहारों के मौसम में खर्च को प्रबंधित करने के लिए संयम बरतने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि “त्योहारों के इस मौसम में उत्पादों और सेवाओं पर बड़ी छूट मिल रही है, जो आपके खर्चों को बढ़ा सकती है। बजट से अधिक खरीदारी आपके खर्च को आपकी आय से बढ़ा सकती है। इसलिए आपको पहले से प्लानिंग करनी चाहिए।”  

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

त्योहारों के लिए कैसे करें प्लानिंग

त्योहारों के समय हमेशा अपेक्षा से अधिक खर्च हो जाता है। इसलिए त्योहारों के लिए पहले से ही बचत करना बेहतर होता है। इससे आपका बजट नहीं बिगड़ता है। आपको हर महीने अपने महीने के खर्चों से कुछ राशि बचाकर जमा करते रहना चाहिए। अगर आपने पहले से बचत नहीं की है और आप खरीदारी के लिए क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर रहे हैं, तो आपके लिए अपने बजट का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। ऐसा न करने पर त्योहार की खुशी बजट बिगड़ने का तनाव बन सकती है।

त्योहारों पर अपने खर्चों को प्रबंधित करने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप त्योहार के लिए एक बजट तय कर लें। इसे तय करते समय अपनी आय और व्यय के बीच संतुलन बनाकर रखना बहुत जरूरी होता है। ऐसा करने पर दिवाली की खरीदारी आपके लिए कभी भी परेशानी का कारण नहीं बनेगी।

त्योहारों के मौसम में रिटेल और ई-कॉमर्स कंपनियां खरीदारी करने पर कैशबैक और छूट देती है। इसलिए खरीदारी करते समय इनका फायदा उठाना चाहिए। ऐसा करने से आपका बजट सही रहेगा और आप अपनी जरूरत का सामान खरीद सकेंगे।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Budget during Diwali: अक्सर त्योहारों के समय और खासकर दिवाली पर लोग जरूरत से अधिक खर्च कर देते हैं। बिना सोचे-समझे, जोश में आकर किया जानेवाला यह खर्च बाद में सिरदर्द बन जाता है और कई महीनों के लिए बजट बिगड़ जाता है। इसलिए ऐसे खर्च से बचना चाहिए और हिसाब से खरीदारी करनी चाहिए। खरीदारी करते समय अपने बजट का ध्यान रखना और इसके लिए पहले से एक बजट तय कर लेना आवश्यक होता है।

पिछले दो साल तक कोरोना महामारी के संकट से जूझने के कारण बाजारों में मुर्दनी छाई रही, पर इस बार त्योहारों के इस मौसम के लिए बाजार पूरी तरह सज चुके हैं। रिटेल मार्केट से लेकर ऑनलाइन प्लेटफार्म तक, सभी आपको भारी छूट और कैशबैक के ऑफर दे रहे हैं। ये आकर्षक ऑफर आपको ज्यादा खरीदारी के लिए प्रेरित कर सकते हैं। लेकिन अपने बजट के दायरे से अधिक खरीदारी आपकी आर्थिक परेशानी बढ़ा सकती है। इसलिए खरीदारी करते समय यह ध्यान रखना जरूरी है कि त्योहार के जोश में कहीं आपका बजट न बिगड़ जाए। 

वीआईवीआईएफआई इंडिया फाइनेंस के सीईओ और संस्थापक अनिल पिनापाला त्योहारों के मौसम में खर्च को प्रबंधित करने के लिए संयम बरतने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि “त्योहारों के इस मौसम में उत्पादों और सेवाओं पर बड़ी छूट मिल रही है, जो आपके खर्चों को बढ़ा सकती है। बजट से अधिक खरीदारी आपके खर्च को आपकी आय से बढ़ा सकती है। इसलिए आपको पहले से प्लानिंग करनी चाहिए।”  

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

त्योहारों के लिए कैसे करें प्लानिंग

त्योहारों के समय हमेशा अपेक्षा से अधिक खर्च हो जाता है। इसलिए त्योहारों के लिए पहले से ही बचत करना बेहतर होता है। इससे आपका बजट नहीं बिगड़ता है। आपको हर महीने अपने महीने के खर्चों से कुछ राशि बचाकर जमा करते रहना चाहिए। अगर आपने पहले से बचत नहीं की है और आप खरीदारी के लिए क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर रहे हैं, तो आपके लिए अपने बजट का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। ऐसा न करने पर त्योहार की खुशी बजट बिगड़ने का तनाव बन सकती है।

त्योहारों पर अपने खर्चों को प्रबंधित करने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप त्योहार के लिए एक बजट तय कर लें। इसे तय करते समय अपनी आय और व्यय के बीच संतुलन बनाकर रखना बहुत जरूरी होता है। ऐसा करने पर दिवाली की खरीदारी आपके लिए कभी भी परेशानी का कारण नहीं बनेगी।

त्योहारों के मौसम में रिटेल और ई-कॉमर्स कंपनियां खरीदारी करने पर कैशबैक और छूट देती है। इसलिए खरीदारी करते समय इनका फायदा उठाना चाहिए। ऐसा करने से आपका बजट सही रहेगा और आप अपनी जरूरत का सामान खरीद सकेंगे।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख