Uniparts India IPO open till 2nd December: यूनिपार्ट्स इंडिया के आईपीओ में 2 दिसंबर तक कर सकते हैं निवेश!

इंजीनियरिंग सिस्टम सॉल्यूशन की ग्लोबल मैन्युफैक्चरर कंपनी यूनिपार्ट्स इंडिया का आईपीओ 30 नवंबर को खुल रहा है।

 यूनिपार्ट्स इंडिया के आईपीओ में 2 दिसंबर तक कर सकते हैं निवेश

Uniparts: विश्व स्तर पर इंजीनियरिंग सिस्टिम और सॉल्यूशन का निर्माण करनेवाली कंपनी यूनिपार्ट्स इंडिया 30 नवंबर को बाजार में नया आईपीओ लाने जा रही है। यह आईपीओ 2 दिसंबर तक खुला रहेगा। निवेशकों को इस आईपीओ में निवेश करने के लिए केवल तीन दिन का समय मिलेगा। अगर आप भी इस कंपनी में निवेश करने की इच्छा रहते हैं तो इस अवसर का लाभ उठा सकते हैं। 

रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस से मिली जानकारी के अनुसार प्रमुख निवेशकों को इस आईपीओ में निवेश करने के लिए एक अधिक दिन मिलेगा। उनके लिए इसकी बोली 29 नवंबर को ही खोल दी जाएगी। यह आईपीओ पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल पर आधारित होगा।

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

यूनिपार्ट्स इंडिया और उसके आईपीओ से संबंधित विवरण

यूनिपार्ट्स इंडिया इंजीनियरिंग सिस्टम और सॉल्यूशन की वैश्विक निर्माता है। यह कंपनी दुनिया भर के 25 देशों में मौजूद है। यूनिपार्ट्स कंस्ट्रक्शन और एग्रीकल्चर सेक्टर्स में ऑफ-हाइवे बाजारों के लिए प्रणालियों और घटकों के प्रमुख आपूर्तिकर्ताओं में शामिल है। कंपनी के उत्पाद पोर्टफोलियो में 3-पॉइंट लिंकेज सिस्टम के कोर प्रोडक्ट वर्टिकल और सही मशीनी पुर्जे के अलावा पावर टेक-ऑफ, फैब्रिकेशन और हाइड्रॉलिक सिलिंडर या उसके पुर्जों का उत्पादन शामिल हैं।

• इस आईपीओ के ऑफर फॉर सेल में द करण सोनी और द मेहर सोनी नेवादा ट्रस्ट, निवेशक अशोका लिमिटेड और पामेला सोनी के अलावा अंबादेवी मॉरीशस होल्डिंग लिमिटेड अपने शेयरों के बिक्री का प्रस्ताव पेशकश करने वाले हैं।

• आईपीओ के जरिए कंपनी को पब्लिक इश्यू से कोई आय प्राप्त नहीं होगी क्योंकि यह पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल पर आधारित होगा।

• ऑफर फॉर सेल दिसंबर 2018 और सितंबर 2014 में भी यूनिपार्ट्स ने इससे पहले सेबी के समक्ष आईपीओ के दस्तावेज जमा कर चुकी है। सेबी ने कंपनी को इसके लिए स्वीकृति भी दे दी थी लेकिन कंपनी ने आईपीओ नहीं खोला था।

• इस इश्यू के बुक रनिंग लीड मैनेजर हैं एक्सिस कैपिटल, जेएम फाइनेंशियल और डीएएम कैपिटल एडवाइजर्स।

निवेश के लिए केवल तीन दिन का समय मिलेगा इसलिए इच्छुक निवेशक अभी से तैयारी कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Uniparts India IPO Analysis

Uniparts: विश्व स्तर पर इंजीनियरिंग सिस्टिम और सॉल्यूशन का निर्माण करनेवाली कंपनी यूनिपार्ट्स इंडिया 30 नवंबर को बाजार में नया आईपीओ लाने जा रही है। यह आईपीओ 2 दिसंबर तक खुला रहेगा। निवेशकों को इस आईपीओ में निवेश करने के लिए केवल तीन दिन का समय मिलेगा। अगर आप भी इस कंपनी में निवेश करने की इच्छा रहते हैं तो इस अवसर का लाभ उठा सकते हैं। 

रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस से मिली जानकारी के अनुसार प्रमुख निवेशकों को इस आईपीओ में निवेश करने के लिए एक अधिक दिन मिलेगा। उनके लिए इसकी बोली 29 नवंबर को ही खोल दी जाएगी। यह आईपीओ पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल पर आधारित होगा।

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

यूनिपार्ट्स इंडिया और उसके आईपीओ से संबंधित विवरण

यूनिपार्ट्स इंडिया इंजीनियरिंग सिस्टम और सॉल्यूशन की वैश्विक निर्माता है। यह कंपनी दुनिया भर के 25 देशों में मौजूद है। यूनिपार्ट्स कंस्ट्रक्शन और एग्रीकल्चर सेक्टर्स में ऑफ-हाइवे बाजारों के लिए प्रणालियों और घटकों के प्रमुख आपूर्तिकर्ताओं में शामिल है। कंपनी के उत्पाद पोर्टफोलियो में 3-पॉइंट लिंकेज सिस्टम के कोर प्रोडक्ट वर्टिकल और सही मशीनी पुर्जे के अलावा पावर टेक-ऑफ, फैब्रिकेशन और हाइड्रॉलिक सिलिंडर या उसके पुर्जों का उत्पादन शामिल हैं।

• इस आईपीओ के ऑफर फॉर सेल में द करण सोनी और द मेहर सोनी नेवादा ट्रस्ट, निवेशक अशोका लिमिटेड और पामेला सोनी के अलावा अंबादेवी मॉरीशस होल्डिंग लिमिटेड अपने शेयरों के बिक्री का प्रस्ताव पेशकश करने वाले हैं।

• आईपीओ के जरिए कंपनी को पब्लिक इश्यू से कोई आय प्राप्त नहीं होगी क्योंकि यह पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल पर आधारित होगा।

• ऑफर फॉर सेल दिसंबर 2018 और सितंबर 2014 में भी यूनिपार्ट्स ने इससे पहले सेबी के समक्ष आईपीओ के दस्तावेज जमा कर चुकी है। सेबी ने कंपनी को इसके लिए स्वीकृति भी दे दी थी लेकिन कंपनी ने आईपीओ नहीं खोला था।

• इस इश्यू के बुक रनिंग लीड मैनेजर हैं एक्सिस कैपिटल, जेएम फाइनेंशियल और डीएएम कैपिटल एडवाइजर्स।

निवेश के लिए केवल तीन दिन का समय मिलेगा इसलिए इच्छुक निवेशक अभी से तैयारी कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Uniparts India IPO Analysis

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख