The major sensitive index of the US market, fell 313 points: अमेरिकी बाजार का प्रमुख संवेदी सूचकांक प्वांइट लुढ़क

अमेरिकी शेयर बाजार कल यानी 20 अगस्त को दुबारा लुढ़क गए।

अमेरिकी शेयर बाजारों में फिर से आई गिरावट

Dow Jones: फेड की पॉलिसी आने के पहले ही कल यानी 20 अगस्त, मंगलवार को अमेरिकी शेयर बाजारों पर एक बार फिर से अमंगल की छाया घिरती दिखी। अमेरिकी बाजार काफी नीचे लुढ़क गए। अमेरिकी शेयर बाजारों में इस गिरावट का असर भारत सहित अन्य बाजारों पर भी होना तय है। अगर भारत में घरेलू शेयर बाजार पर इसका असर पड़ा तो निवेशकों के लिए आज बुधवार का दिन भी बुरा रहेगा।

फेड की पॉलिसी से पहले ही आज यानी मंगलवार, 20 अगस्त  को अमेरिकी बाजार का प्रमुख संवेदी सूचकांक डाऊ जोंस 313 अंक नीचे लुढ़क कर 30,706 के लेवल पर बंद हुआ। वहीं नैस्डैक 110 अंक या 0.95 फेज़ लुढ़ककर 11425 के लेवल पर बंद हुआ।  एसएंडपी500 भी 1.13 फेज़ गिरकर 3855 के लेवल पर पहुँच गया। अगर आज घरेलू शेयर बाजार पर इसका असर पड़ा तो निवेशकों को आज नुकसान होगा। मंगलवार को अमेरिकी शेयर बाजारों में आई सुनामी में डाऊ जोंस, नैस्डैक और एसएंडपी 500 में जोरदार गिरावट देखी गई थी।  पिछले मंगलवार को, डाऊ जोन्स 1276 अंक से अधिक अंक फिसलकर 31104 के लेवल पर बंद हुआ था। एसएंडपी 500 में 4.32 फेज़ या 177 अंक और नैस्डैक कंपोजिट में 5% से अधिक गिरावट आई थी।  

यह भी पढ़ें: इंटरनेशनल कंस्ट्रक्शन लिमिटेड की उड़ान

घरेलू शेयर बाजार की स्थिति

हालांकि, पिछले मंगलवार को अमेरिकी शेयर बाजारों के विपरीत घरेलू शेयर बाजार में रौनक रही। तीस शेयरों के आधार पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज सेंसेक्स 578.51 अंक यानी 0.98 फेज़ की तेजी दर्जकर 59,719.74 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के समय में एक बार यह 964.56 अंक तक चढ़ गया था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 194 अंक यानी 1.10 प्रतिशत की बढ़त के साथ 17,816.25 अंक पर बंद हुआ। हालांकि, कारोबार के दौरान यह 297.05 अंक तक ऊपर पहुँच गया था। अभी तक अमेरिकी शेयर बाजारों में आई सुनामी का घरेलू शेयर बाजार पर कोई खास असर नहीं दिख रहा है।

यह भी पढ़ें: मुनाफा कमाना चाहते है तो लगा सकते है इन शेयरों में दांव

Dow Jones में भूकंप

M Stock

संवादपत्र

संबंधित लेख