Three IT Giants fall: तीन प्रमुख आईटी कंपनियाँ लुढ़कीं

भारत की तीन नामी गिरामी आईटी कंपनियों के शेयरों में गिरावट आई है।

शेयरों में आई गिरावट

Best IT Stocks: शेयर बाजार का पिछला हफ्ता बहुत उतार-चढ़ाव भरा रहा। जिसके चलते भारत की तीन सबसे बड़ी आईटी कंपनियाँ इंफोसिस (Infosys), विप्रो (Wipro) और टीसीएस (TCS) के शेयर की कीमतें लुढ़क गईं। शुक्रवार को इंफोसिस के शेयर की कीमत ₹1362 प्रति शेयर थी। यह इस शेयर का पिछले 52 हफ्तों का सबसे निचला स्तर है। बाजार बंद होते-होते मामूली सी बढ़त बनाते हुए यह शेयर ₹1365.45 पर पहुँच गया। इसी के साथ दो अन्य आईटी कंपनी, विप्रो और टीसीएस की कीमतें भी गिरीं। जहाँ विप्रो पिछले हफ्ते ₹391 के निम्न स्तर पर पहुँच चुका था, शुक्रवार को ₹394.35 पर बंद हुआ। वहीं टीसीएस का शेयर भी लुढ़क गया। टाटा समूह की आई टी कंपनी टाटा कंसल्टन्सी का शेयर अपने निम्न स्तर ₹2953 तक गिरने के बाद, शुक्रवार को बाजार बंद होते समय ₹2982.05 पर पहुँच गया था। 

आईटी सेक्टर की तीनों दिग्गज कंपनियों के लुढ़कने के बाद विशेषज्ञों ने निवेशकों के लिए कुछ सुझाव दिए हैं कि किस शेयर पर वे अभी भी दाँव लगाया जा सकता है। जानते हैं कि क्या अभी भी इन आईटी कम्पनियों पर भरोसा जताया जा सकता है। 

टीसीएस होल्ड करें या बेचें 

गौरतलब है कि टाटा ग्रुप की कंपनी टीसीएस का शेयर पिछले साल भर में 22.93% लुढ़का है। उसकी 52 हफ्तों की सबसे ऊँची कीमत ₹4043 थी, जो अब लुढ़क कर 2982.05 हो चुकी है। लेकिन 43 में से 6 विशेषज्ञों ने इसे अभी भी स्ट्रांग बॉय श्रेणी में रखा है। वहीं 14 जानकारों ने खरीदारी की सलाह दी है, जबकि 13 विशेषज्ञों ने इसे होल्ड करने का सुझाव दिया है। वहीं 10 विशेषज्ञों की सलाह मानें तो यह स्टॉक से बाहर निकल जाने का समय है। 

यह भी पढ़ें: इंटरनेशनल कंस्ट्रक्शन लिमिटेड के शेयरों की उड़ान

विप्रो पर विशेषज्ञों की राय 

दूसरी दिग्गज कंपनी विप्रो पिछले साल भर में 41.52% लुढ़की है। इसका 52 हफ्तों का हाई ₹739.85 था। इस स्टॉक के बारे में विशेषज्ञों की राय देखना चाहें तो 16 विशेषज्ञों ने इसे बेचने की सलाह दी है। जबकि 10 विशेषज्ञ इसे खरीदने का सही समय बता रहे हैं। वहीं 14 विशेषज्ञ ऐसे हैं जो इसे होल्ड करने का सुझाव दे रहे हैं। 

इंफोसिस पर दाँव 

आईटी सेक्टर की नामी गिरामी कंपनी इंफोसिस ने पिछले साल भर में यूँ तो निवेशकों को कोई लाभ नहीं दिया,  उल्टा इसमें काफी नुकसान हुआ है। हालांकि, यह स्टॉक साल भर में अन्य दो कंपनियों के मुकाबले 21% ही लुढ़का है। इस कंपनी का 52 हफ्तों का हाई ₹1377.01 था, जबकि पिछले हफ्ते सबसे निम्न स्तर ₹1362 था। स्टॉक के प्रदर्शन के प्रति अभी भी शेयर बाजार में सकारात्मक रवैया बना हुआ है। विशेषज्ञों के हिसाब से शेयर बाजार इसके लिए अभी बुलिश है। 44 विशेषज्ञों में से 17 ने तुरंत खरीदने की सलाह दी है, तो 17 अन्य विशेषज्ञों ने खरीदने का सुझाव दिया है। केवल 3 विशेषज्ञों ने इसे बेचने की सलाह दी है। वहीं 7 अन्य विशेषज्ञों ने इसे होल्ड पर रखने का सुझाव दिया है। 

इस लेख में निवेशकों के लिए शेयर के प्रदर्शन की जानकारी दी गई है, और यह निवेश का विशेष सुझाव नहीं है। निवेशक अपनी सूझबूझ और जानकारों की सलाह से निवेश कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: देखने को मिल रही खरीदारी, लगा सकते है दांव इन शेयरों में

इन सारे शेयर्स को खरीद लेना

Best IT Stocks: शेयर बाजार का पिछला हफ्ता बहुत उतार-चढ़ाव भरा रहा। जिसके चलते भारत की तीन सबसे बड़ी आईटी कंपनियाँ इंफोसिस (Infosys), विप्रो (Wipro) और टीसीएस (TCS) के शेयर की कीमतें लुढ़क गईं। शुक्रवार को इंफोसिस के शेयर की कीमत ₹1362 प्रति शेयर थी। यह इस शेयर का पिछले 52 हफ्तों का सबसे निचला स्तर है। बाजार बंद होते-होते मामूली सी बढ़त बनाते हुए यह शेयर ₹1365.45 पर पहुँच गया। इसी के साथ दो अन्य आईटी कंपनी, विप्रो और टीसीएस की कीमतें भी गिरीं। जहाँ विप्रो पिछले हफ्ते ₹391 के निम्न स्तर पर पहुँच चुका था, शुक्रवार को ₹394.35 पर बंद हुआ। वहीं टीसीएस का शेयर भी लुढ़क गया। टाटा समूह की आई टी कंपनी टाटा कंसल्टन्सी का शेयर अपने निम्न स्तर ₹2953 तक गिरने के बाद, शुक्रवार को बाजार बंद होते समय ₹2982.05 पर पहुँच गया था। 

आईटी सेक्टर की तीनों दिग्गज कंपनियों के लुढ़कने के बाद विशेषज्ञों ने निवेशकों के लिए कुछ सुझाव दिए हैं कि किस शेयर पर वे अभी भी दाँव लगाया जा सकता है। जानते हैं कि क्या अभी भी इन आईटी कम्पनियों पर भरोसा जताया जा सकता है। 

टीसीएस होल्ड करें या बेचें 

गौरतलब है कि टाटा ग्रुप की कंपनी टीसीएस का शेयर पिछले साल भर में 22.93% लुढ़का है। उसकी 52 हफ्तों की सबसे ऊँची कीमत ₹4043 थी, जो अब लुढ़क कर 2982.05 हो चुकी है। लेकिन 43 में से 6 विशेषज्ञों ने इसे अभी भी स्ट्रांग बॉय श्रेणी में रखा है। वहीं 14 जानकारों ने खरीदारी की सलाह दी है, जबकि 13 विशेषज्ञों ने इसे होल्ड करने का सुझाव दिया है। वहीं 10 विशेषज्ञों की सलाह मानें तो यह स्टॉक से बाहर निकल जाने का समय है। 

यह भी पढ़ें: इंटरनेशनल कंस्ट्रक्शन लिमिटेड के शेयरों की उड़ान

विप्रो पर विशेषज्ञों की राय 

दूसरी दिग्गज कंपनी विप्रो पिछले साल भर में 41.52% लुढ़की है। इसका 52 हफ्तों का हाई ₹739.85 था। इस स्टॉक के बारे में विशेषज्ञों की राय देखना चाहें तो 16 विशेषज्ञों ने इसे बेचने की सलाह दी है। जबकि 10 विशेषज्ञ इसे खरीदने का सही समय बता रहे हैं। वहीं 14 विशेषज्ञ ऐसे हैं जो इसे होल्ड करने का सुझाव दे रहे हैं। 

इंफोसिस पर दाँव 

आईटी सेक्टर की नामी गिरामी कंपनी इंफोसिस ने पिछले साल भर में यूँ तो निवेशकों को कोई लाभ नहीं दिया,  उल्टा इसमें काफी नुकसान हुआ है। हालांकि, यह स्टॉक साल भर में अन्य दो कंपनियों के मुकाबले 21% ही लुढ़का है। इस कंपनी का 52 हफ्तों का हाई ₹1377.01 था, जबकि पिछले हफ्ते सबसे निम्न स्तर ₹1362 था। स्टॉक के प्रदर्शन के प्रति अभी भी शेयर बाजार में सकारात्मक रवैया बना हुआ है। विशेषज्ञों के हिसाब से शेयर बाजार इसके लिए अभी बुलिश है। 44 विशेषज्ञों में से 17 ने तुरंत खरीदने की सलाह दी है, तो 17 अन्य विशेषज्ञों ने खरीदने का सुझाव दिया है। केवल 3 विशेषज्ञों ने इसे बेचने की सलाह दी है। वहीं 7 अन्य विशेषज्ञों ने इसे होल्ड पर रखने का सुझाव दिया है। 

इस लेख में निवेशकों के लिए शेयर के प्रदर्शन की जानकारी दी गई है, और यह निवेश का विशेष सुझाव नहीं है। निवेशक अपनी सूझबूझ और जानकारों की सलाह से निवेश कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: देखने को मिल रही खरीदारी, लगा सकते है दांव इन शेयरों में

इन सारे शेयर्स को खरीद लेना

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख