Lifelong pension with Atal Pension Yojana: महीने के मात्र 42 रुपए जमा करके बनें आजीवन पेंशन के हकदार!

चार करोड़ से अधिक लोग भारत सरकार की अटल पेंशन योजना का लाभ उठा चुके हैं।

अटल पेंशन योजना

Atal Pension Yojana: अटल पेंशन योजना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 1 जून 2015 को आरंभ की गई थी। अब तक चार करोड़ से अधिक लोग इस योजना से जुड़कर आजीवन पेंशन के हकदार बन चुके हैं। अगर लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है तो उसके बाद उनके जीवनसाथी को हर महीने पेंशन की पूरी राशि मिलती रहेगी। यह मुख्य रूप से असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों पर केंद्रित है। इस योजना के अंतर्गत, ग्राहकों को 60 वर्ष की आयु पूरी हो जाने के बाद, उनके द्वारा चुनी हुई पेंशन राशि के लिए उनके योगदान के आधार पर 1,000 रुपए से लेकर 5,000 रुपए प्रति माह की न्यूनतम गारंटी पेंशन दी जाएगी।

मोदी सरकार ने अटल पेंशन योजना की शुरुआत गैर-संगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों को सामाजिक सुरक्षा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से की थी। पिछले वित्तीय वर्ष में 99 लाख से अधिक नए अटल पेंशन योजना अकाउंट्स खोले गए थे। मार्च 2022 के अंत तक इस योजना की सदस्यता लेने वाले लोगों की संख्या 4.01 करोड़ हो चुकी थी।

इस योजना में पेंशन की राशि लाभार्थी के निवेश तथा उसकी उम्र के हिसाब से तय की जाती है। अटल पेंशन योजना का लाभ कोई भी भारतीय व्यक्ति उठा सकता है। सरकार ने अटल पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए उम्र की न्यूनतम और उच्चतम सीमा तय की है

जो क्रमशः 18 और 40 वर्ष है। 18 साल से कम और 40 साल से अधिक उम्र वाले इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं।

अटल पेंशन योजना में रजिस्ट्रेशन कराने और इसका लाभ उठाने के लिए आवेदक के पास किसी बैंक या पोस्ट ऑफिस में खाता होना आवश्यक है। यह बैंक खाता आधार कार्ड से जुड़ा होना चाहिए। सरकार ने हाल ही में अटल पेंशन योजना के नियमों में कुछ परिवर्तन किए गए हैं।

संबंधित आलेख: अटल पेंशन योजना आपके बुढ़ापे को देगी आर्थिक सुरक्षा

योजना से जुड़ने की शर्तें

अटल पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए आपके पास एक बैंक खाता या पोस्ट ऑफिस अकाउंट होना चाहिए। यह बैंक खाता आपके आधार कार्ड से जुड़ा होना चाहिए। जब आप अटल पेंशन योजना के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करेंगे तो आपको अपना आधार नंबर देना होगा। आधार नंबर के साथ ही आपको अपने बैंक अकाउंट का विवरण भी देना होगा, ताकि हर महीने इसका प्रीमियम अपने आप आपके खाते से कट जाए। इसके साथ ही आपके पास एक मोबाइल नंबर होना चाहिए। आपका एक पहचान पत्र भी होना चाहिए जिससे आपके पते की पुष्टि हो सके। अब आयकरदाता अटल पेंशन योजना का लाभ नहीं उठा सकेगा।

अटल पेंशन योजना के लिए आपको बहुत कम प्रीमियम देना होगा। अगर आप 18 साल के हैं और हर महीने 1,000 रुपए पेंशन पाना चाहते हैं तो आपको हर महीने केवल 42 रुपए जमा कराने होंगे। अगर पेंशन 5,000 रुपए महीने चाहिए तो हर महीने 210 रुपए प्रीमियम जमा करानी होगी। 60 वर्ष की आयु पूरी हो जाने के बाद से आपको जीवन भर हर महीने पेंशन मिलती रहेगी। लाभार्थी की मृत्यु के बाद उनके जीवनसाथी को हर महीने पेंशन की पूरी रकम मिलेगी। पति-पत्नी दोनों की मृत्यु के बाद अटल पेंशन योजना का सारा पैसा उनके बच्चों को सौंप दिया जाएगा।

अटल पेंशन योजना से कैसे जुड़ें

अटल पेंशन योजना का आवेदन करना बहुत ही आसान है। आप ऑनलाइन या ऑफ लाइन दोनों तरह से अटल पेंशन योजना से जुड़ सकते हैं।

ऑनलाइन आवेदन करने का तरीका

सबसे पहले आपको अटल पेंशन योजना के मोबाइल ऐप या फिर https://enps.nsdl.com/eNPS/NationalPensionSystem.html के लिंक पर जाएं। इसके बाद आपको APY अप्लीकेशन पर क्लिक करें। अपने आधार कार्ड का विवरण भरें। आधार से जुड़े मोबाइल नंबर पर वन टाइम पासवर्ड (OTP) आएगा। उसे उपयुक्त खाने में डालें। बैंक का विवरण यानी अकाउंट नंबर और पता टाइप करें। बैंक इन जानकारियों की पुष्टि करेगा फिर आपका खाता सक्रिय हो जाएगा। इसके बाद आप नॉमिनी और प्रीमियम जमा करने के बारे में जानकारी दें। सत्यापन के लिए फॉर्म को ई-साइन करने पर अटल पेंशन योजना के लिए आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा।

ऑफलाइन आवेदन करने का तरीका

आपका खाता जिस बैंक में है वहां जाकर आप अटल पेंशन योजना का फॉर्म लेकर, उसे भरकर उसे बैंक में जमा करा दीजिए। बैंक में फॉर्म जमा होने के बाद आपका अटल पेंशन योजना का खाता शुरु हो जाएगा। इसका प्रीमियम आपकी सुविधा के मुताबिक हर महीने या सालाना कटता रहेगा। 60 वर्ष की आयु होते ही आपको पेंशन का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा। इंटरनेट बैंकिंग सुविधा के जरिये भी इसे खुलवाया जा सकता है। आवेदन प्रक्रिया पूरी होने पर अकाउंट खुल जाता है। इसके बारे में आपको रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसएमएस भेजकर सूचित किया जाता है।

यह भी पढ़ें: इन प्रभावी बजट विधियों के साथ कर्ज मुक्त हो जाएं 

Atal Pension Yojna क्या है और इसका फ़ायदा कैसे मिल सकता है?

Atal Pension Yojana: अटल पेंशन योजना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 1 जून 2015 को आरंभ की गई थी। अब तक चार करोड़ से अधिक लोग इस योजना से जुड़कर आजीवन पेंशन के हकदार बन चुके हैं। अगर लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है तो उसके बाद उनके जीवनसाथी को हर महीने पेंशन की पूरी राशि मिलती रहेगी। यह मुख्य रूप से असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों पर केंद्रित है। इस योजना के अंतर्गत, ग्राहकों को 60 वर्ष की आयु पूरी हो जाने के बाद, उनके द्वारा चुनी हुई पेंशन राशि के लिए उनके योगदान के आधार पर 1,000 रुपए से लेकर 5,000 रुपए प्रति माह की न्यूनतम गारंटी पेंशन दी जाएगी।

मोदी सरकार ने अटल पेंशन योजना की शुरुआत गैर-संगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों को सामाजिक सुरक्षा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से की थी। पिछले वित्तीय वर्ष में 99 लाख से अधिक नए अटल पेंशन योजना अकाउंट्स खोले गए थे। मार्च 2022 के अंत तक इस योजना की सदस्यता लेने वाले लोगों की संख्या 4.01 करोड़ हो चुकी थी।

इस योजना में पेंशन की राशि लाभार्थी के निवेश तथा उसकी उम्र के हिसाब से तय की जाती है। अटल पेंशन योजना का लाभ कोई भी भारतीय व्यक्ति उठा सकता है। सरकार ने अटल पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए उम्र की न्यूनतम और उच्चतम सीमा तय की है

जो क्रमशः 18 और 40 वर्ष है। 18 साल से कम और 40 साल से अधिक उम्र वाले इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं।

अटल पेंशन योजना में रजिस्ट्रेशन कराने और इसका लाभ उठाने के लिए आवेदक के पास किसी बैंक या पोस्ट ऑफिस में खाता होना आवश्यक है। यह बैंक खाता आधार कार्ड से जुड़ा होना चाहिए। सरकार ने हाल ही में अटल पेंशन योजना के नियमों में कुछ परिवर्तन किए गए हैं।

संबंधित आलेख: अटल पेंशन योजना आपके बुढ़ापे को देगी आर्थिक सुरक्षा

योजना से जुड़ने की शर्तें

अटल पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए आपके पास एक बैंक खाता या पोस्ट ऑफिस अकाउंट होना चाहिए। यह बैंक खाता आपके आधार कार्ड से जुड़ा होना चाहिए। जब आप अटल पेंशन योजना के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करेंगे तो आपको अपना आधार नंबर देना होगा। आधार नंबर के साथ ही आपको अपने बैंक अकाउंट का विवरण भी देना होगा, ताकि हर महीने इसका प्रीमियम अपने आप आपके खाते से कट जाए। इसके साथ ही आपके पास एक मोबाइल नंबर होना चाहिए। आपका एक पहचान पत्र भी होना चाहिए जिससे आपके पते की पुष्टि हो सके। अब आयकरदाता अटल पेंशन योजना का लाभ नहीं उठा सकेगा।

अटल पेंशन योजना के लिए आपको बहुत कम प्रीमियम देना होगा। अगर आप 18 साल के हैं और हर महीने 1,000 रुपए पेंशन पाना चाहते हैं तो आपको हर महीने केवल 42 रुपए जमा कराने होंगे। अगर पेंशन 5,000 रुपए महीने चाहिए तो हर महीने 210 रुपए प्रीमियम जमा करानी होगी। 60 वर्ष की आयु पूरी हो जाने के बाद से आपको जीवन भर हर महीने पेंशन मिलती रहेगी। लाभार्थी की मृत्यु के बाद उनके जीवनसाथी को हर महीने पेंशन की पूरी रकम मिलेगी। पति-पत्नी दोनों की मृत्यु के बाद अटल पेंशन योजना का सारा पैसा उनके बच्चों को सौंप दिया जाएगा।

अटल पेंशन योजना से कैसे जुड़ें

अटल पेंशन योजना का आवेदन करना बहुत ही आसान है। आप ऑनलाइन या ऑफ लाइन दोनों तरह से अटल पेंशन योजना से जुड़ सकते हैं।

ऑनलाइन आवेदन करने का तरीका

सबसे पहले आपको अटल पेंशन योजना के मोबाइल ऐप या फिर https://enps.nsdl.com/eNPS/NationalPensionSystem.html के लिंक पर जाएं। इसके बाद आपको APY अप्लीकेशन पर क्लिक करें। अपने आधार कार्ड का विवरण भरें। आधार से जुड़े मोबाइल नंबर पर वन टाइम पासवर्ड (OTP) आएगा। उसे उपयुक्त खाने में डालें। बैंक का विवरण यानी अकाउंट नंबर और पता टाइप करें। बैंक इन जानकारियों की पुष्टि करेगा फिर आपका खाता सक्रिय हो जाएगा। इसके बाद आप नॉमिनी और प्रीमियम जमा करने के बारे में जानकारी दें। सत्यापन के लिए फॉर्म को ई-साइन करने पर अटल पेंशन योजना के लिए आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा।

ऑफलाइन आवेदन करने का तरीका

आपका खाता जिस बैंक में है वहां जाकर आप अटल पेंशन योजना का फॉर्म लेकर, उसे भरकर उसे बैंक में जमा करा दीजिए। बैंक में फॉर्म जमा होने के बाद आपका अटल पेंशन योजना का खाता शुरु हो जाएगा। इसका प्रीमियम आपकी सुविधा के मुताबिक हर महीने या सालाना कटता रहेगा। 60 वर्ष की आयु होते ही आपको पेंशन का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा। इंटरनेट बैंकिंग सुविधा के जरिये भी इसे खुलवाया जा सकता है। आवेदन प्रक्रिया पूरी होने पर अकाउंट खुल जाता है। इसके बारे में आपको रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसएमएस भेजकर सूचित किया जाता है।

यह भी पढ़ें: इन प्रभावी बजट विधियों के साथ कर्ज मुक्त हो जाएं 

Atal Pension Yojna क्या है और इसका फ़ायदा कैसे मिल सकता है?

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख