Saving Schemes for Senior Citizens: वरिष्ठ नागरिकों के लिए सात सेविंग स्कीम्स जो देंगी मंथली इनकम

वरिष्ठों के लिए उपयुक्त नियमित आमदनी वाली कुछ योजनाएँ जिनमें गारंटीड रिटर्न मिलता है।

वरिष्ठ नागरिकों के लिए सात सेविंग स्कीम्स जो देंगी मंथली इनकम

7 Saving schemes: इस लेख में ऐसे ही कुछ बेहतरीन विकल्पों की जानकारी दे रहे हैं जो वरिष्ठ नागरिकों को न सिर्फ बेहतर आमदनी की सुनिश्चितता देते हैं बल्कि इन्हें फायदेमंद बचत योजनाओं में भी गिना जाता है। 

सीनियर सिटीजंस सेविंग स्कीम्स

इस योजना की लोकप्रियता का एक प्रमुख कारण है इसकी ब्याज दर, जो 7.6% है। इस योजना में 60 से बड़ी उम्र का कोई भी व्यक्ति निवेश कर सकता है। हालाँकि इसमें 55 वर्षों के या उससे अधिक आयु के लोगों के लिए भी प्रावधान है, बशर्ते निवेश रिटायरमेंट के लाभ मिलने के एक महीने के भीतर किया गया हो। इस योजना में कम से कम निवेश 10,000 रुपए का और अधिकतम निवेश 15 लाख रुपयों का किया जा सकता है। योजना की कुल अवधि 5 साल है लेकिन अवधि पूर्ण होने पर इसे तीन साल के लिए बढ़ाया जा सकता है। 

प्रधानमंत्री वय वंदन योजना 

यह योजना सिर्फ़ 60 साल के ऊपर के वरिष्ठ नागरिकों के लिए है। इस योजना के अंतर्गत 10 साल के लिए निवेश किया जा सकता है। न्यूनतम निवेश ₹1,56,658 और अधिकतम निवेश की सीमा ₹15 लाख रुपए है। इस योजना में मंथली इनकम यानी मासिक आमदनी के साथ 3 माह, 6 माह, और वार्षिक पेंशन का प्रावधान है। निवेश के 3 सालों बाद 75% राशि लोन के रूप में प्राप्त की जा सकती है। 

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

बैंक में एफडी

सुरक्षा और तय आमदनी मिलने के कारण एफडी वरिष्ठ नागरिकों में बहुत लोकप्रिय योजना है। आम तौर पर देखा गया है कि बैंक वरिष्ठ नागरिकों को आधा प्रतिशत अधिक ब्याज देते हैं। 

स्पेशल टर्म डिपॉज़िट 

कुछ बैंक अपने वरिष्ठ ग्राहकों के लिए स्पेशल टर्म डिपॉज़िट के तहत 5 या उससे अधिक वर्षों की योजनाएँ देती हैं। जैसे एसबीआई की वीकेयर एफडी और आईसीआईसीआई बैंक की गोल्डन इयर्स एफडी। इसमें 5 या उससे अधिक सालों की योजना के लिए एसबीआई जहाँ 0.3% का अतिरिक्त ब्याज देता है वहीं आईसीआईसीआई इस योजना के लिए 0.2% का अतिरिक्त ब्याज देता है। 

आरबीआई फ्लोटिंग रेट सेविंग्स बॉन्ड्स 2020 (टैक्सेबल)

जैसा कि नाम से पता चलता है इस स्कीम में ब्याज दर एक से नहीं रहते बल्कि हर 6 महीने में बार-बार तय किए जाते हैं। इसे RBI 7.15% के नाम से भी जाना जाता है। ब्याज की दर राष्ट्रीय बचत पत्र (एनएससी) पर निर्भर करती है। वर्तमान में इसमें 7.15% की दर से ब्याज दिया जा रहा है इसलिए यह निश्चित रूप से वरिष्ठों के लिए लाभदायक योजना है। 

पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम

इस योजना में वैसे तो आयु के अनुसार वरिष्ठों के लिए विशेष प्रावधान नहीं है लेकिन इसमें निश्चित मासिक आय की उपलब्धता के कारण यह उनकी पसंद बन गई है। इस स्कीम में निवेश की न्यूनतम सीमा 1000 रुपए है और एक खाते के लिए अधिकतम सीमा है 4.5 लाख रुपए। 

पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट अकाउंट

पोस्ट ऑफ़िस से जारी की जाने वाली स्कीम में से यह सबसे लोकप्रिय स्कीम है। इसके अंतर्गत 1, 2, 3, या 5 सालों के लिए निवेश किया जा सकता है। इसमें न्यूनतम निवेश 1000 रूपये का किया जा सकता है। सबसे बड़ी बात है कि इसमें रिटर्न की गारंटी मिलती है और 5 वर्षों के निवेश पर 80C के अनुसार टैक्स में छूट मिलती है।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

7 Saving schemes: इस लेख में ऐसे ही कुछ बेहतरीन विकल्पों की जानकारी दे रहे हैं जो वरिष्ठ नागरिकों को न सिर्फ बेहतर आमदनी की सुनिश्चितता देते हैं बल्कि इन्हें फायदेमंद बचत योजनाओं में भी गिना जाता है। 

सीनियर सिटीजंस सेविंग स्कीम्स

इस योजना की लोकप्रियता का एक प्रमुख कारण है इसकी ब्याज दर, जो 7.6% है। इस योजना में 60 से बड़ी उम्र का कोई भी व्यक्ति निवेश कर सकता है। हालाँकि इसमें 55 वर्षों के या उससे अधिक आयु के लोगों के लिए भी प्रावधान है, बशर्ते निवेश रिटायरमेंट के लाभ मिलने के एक महीने के भीतर किया गया हो। इस योजना में कम से कम निवेश 10,000 रुपए का और अधिकतम निवेश 15 लाख रुपयों का किया जा सकता है। योजना की कुल अवधि 5 साल है लेकिन अवधि पूर्ण होने पर इसे तीन साल के लिए बढ़ाया जा सकता है। 

प्रधानमंत्री वय वंदन योजना 

यह योजना सिर्फ़ 60 साल के ऊपर के वरिष्ठ नागरिकों के लिए है। इस योजना के अंतर्गत 10 साल के लिए निवेश किया जा सकता है। न्यूनतम निवेश ₹1,56,658 और अधिकतम निवेश की सीमा ₹15 लाख रुपए है। इस योजना में मंथली इनकम यानी मासिक आमदनी के साथ 3 माह, 6 माह, और वार्षिक पेंशन का प्रावधान है। निवेश के 3 सालों बाद 75% राशि लोन के रूप में प्राप्त की जा सकती है। 

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

बैंक में एफडी

सुरक्षा और तय आमदनी मिलने के कारण एफडी वरिष्ठ नागरिकों में बहुत लोकप्रिय योजना है। आम तौर पर देखा गया है कि बैंक वरिष्ठ नागरिकों को आधा प्रतिशत अधिक ब्याज देते हैं। 

स्पेशल टर्म डिपॉज़िट 

कुछ बैंक अपने वरिष्ठ ग्राहकों के लिए स्पेशल टर्म डिपॉज़िट के तहत 5 या उससे अधिक वर्षों की योजनाएँ देती हैं। जैसे एसबीआई की वीकेयर एफडी और आईसीआईसीआई बैंक की गोल्डन इयर्स एफडी। इसमें 5 या उससे अधिक सालों की योजना के लिए एसबीआई जहाँ 0.3% का अतिरिक्त ब्याज देता है वहीं आईसीआईसीआई इस योजना के लिए 0.2% का अतिरिक्त ब्याज देता है। 

आरबीआई फ्लोटिंग रेट सेविंग्स बॉन्ड्स 2020 (टैक्सेबल)

जैसा कि नाम से पता चलता है इस स्कीम में ब्याज दर एक से नहीं रहते बल्कि हर 6 महीने में बार-बार तय किए जाते हैं। इसे RBI 7.15% के नाम से भी जाना जाता है। ब्याज की दर राष्ट्रीय बचत पत्र (एनएससी) पर निर्भर करती है। वर्तमान में इसमें 7.15% की दर से ब्याज दिया जा रहा है इसलिए यह निश्चित रूप से वरिष्ठों के लिए लाभदायक योजना है। 

पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम

इस योजना में वैसे तो आयु के अनुसार वरिष्ठों के लिए विशेष प्रावधान नहीं है लेकिन इसमें निश्चित मासिक आय की उपलब्धता के कारण यह उनकी पसंद बन गई है। इस स्कीम में निवेश की न्यूनतम सीमा 1000 रुपए है और एक खाते के लिए अधिकतम सीमा है 4.5 लाख रुपए। 

पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट अकाउंट

पोस्ट ऑफ़िस से जारी की जाने वाली स्कीम में से यह सबसे लोकप्रिय स्कीम है। इसके अंतर्गत 1, 2, 3, या 5 सालों के लिए निवेश किया जा सकता है। इसमें न्यूनतम निवेश 1000 रूपये का किया जा सकता है। सबसे बड़ी बात है कि इसमें रिटर्न की गारंटी मिलती है और 5 वर्षों के निवेश पर 80C के अनुसार टैक्स में छूट मिलती है।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Expert Article block example

संवादपत्र