Senior Citizen Savings Scheme: सेवानिवृत्ति के बाद 7.6% का बेहतर रिटर्न देनेवाली योजना में करें निवेश

पोस्ट ऑफिस की सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में सबसे अधिक ब्याज मिलने की गारंटी

Senior Citizen Savings Scheme is giving highest interest

Senior Citizen Saving Scheme: पोस्ट ऑफिस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम सेवानिवृत लोगों को सबसे अधिक ब्जाज देनेवाली निवेश योजना है। यह निवेशकों को उनके निवेश पर 7.6 प्रतिशत की दर ब्याज दे रही है। 

नौकरी से अवकाशप्राप्त करने के बाद सीनियर सिटीजन के पास नियमित आय पाने का कोई स्रोत नहीं रह जाता, ऐसे में वे सेवानिवृति के समय मिलनेवाली रकम को ऐसी जगह लगाना चाहते हैं, जहाँ उनके पैसे सुरक्षित रहें और साथ में उन्हें फायदा भी हो। भारतीय डाक विभाग, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम नाम की एक ऐसी ही बचत निवेश स्कीम चला रही है। सरकार ने 1 अक्टूबर 2022 से आरंभ होनेवाली इस तिमाही में इस योजना के ब्याज दरों में बढ़ोत्तरी की है।

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

निवेश करने की पात्रता और निवेश की जाने वाली रकम

डाक घर की सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में 60 वर्ष या इससे अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति अपना खाता खुलवा सकता है। इसके साथ ही सरकारी पदों से वीआरएस लेने वाले लोग 55 से 60 साल की उम्र के होने पर भी इस योजना में खाता खुलवा सकते हैं। आर्मी, एयर फोर्स, नेवी के साथ-साथ अन्य सुरक्षा बलों से सेवानिवृत हुए लोग, जिनकी उम्र 50 से 60 साल के बीच है, वे भी इस स्कीम में अकेले या ज्वॉइंट अकाउंट खोलने के पात्र हैं।

इस स्कीम में न्यूनतम 1,000 रुपए का निवेश किया जा सकता है और इसमें जमा की जानेवाली अधिकतम राशि 15 लाख रुपए हैं। इस स्कीम में निवेश करने पर सीनियर सिटीजन को आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80सी के अंतर्गत कर संबंधी लाभ भी मिलते हैं। किसान विकास पत्र जैसे निवेश पर ऐसा कोई लाभ नहीं मिलता है। 

कितना मिलेगा ब्याज?

केन्द्र सरकार द्वारा चालू तिमाही में 1 अक्टूबर 2022 से इस स्कीम पर दिए जाने वाले ब्याज की दर बढ़ा दी गई है। इस स्कीम में निवेश करने पर आपको 7.6 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। 

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में किए गए निवेश को मैच्योरिटी की अवधि से पहले निकालने पर कुछ शर्तें लागू हैं। अगर आप खाता खुलवाने के एक साल से कम समय के बाद इस खाते को बंद कराते हैं तो आपको निवेश की गई रकम पर कोई ब्याज नहीं मिलेगा। इसके अलावा अगर आप 1 से 2 साल के बीच में अपना खाता बंद कराते हैं, तो पोस्ट ऑफिस आपको दिये गए ब्याज की में से 1.5 प्रतिशत की कटौती करेगा। अगर आप 2 से 5 सालों में इस खाते को बंद कराते हैं तो आपकी कुल राशि में से 1 प्रतिशत की कटौती की जाएगी.। 

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में निवेश की अवधि 

निवेश की कुल अवधि 5 वर्ष है। अगर आपको कोई जरूरत हो तो आप इस समय-सीमा से पहले भी अपनी निवेश की गई रकम वापस ले सकते हैं । उदाहरण के तौर पर, अगर आप 2022 में 5 साल के लिए 5 लाख रुपए का निवेश करते हैं, तो यह 2027 में मैच्योर होगा। इसपर आपको 7.6% वार्षिक ब्याज मिल रहा है। इस तरह 5 साल बाद निवेश किए गये गए 5 लाख रुपयों के बदले आपको कुल 6,90,000 रुपए मिलेंगे। 

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Senior Citizen Saving Scheme: पोस्ट ऑफिस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम सेवानिवृत लोगों को सबसे अधिक ब्जाज देनेवाली निवेश योजना है। यह निवेशकों को उनके निवेश पर 7.6 प्रतिशत की दर ब्याज दे रही है। 

नौकरी से अवकाशप्राप्त करने के बाद सीनियर सिटीजन के पास नियमित आय पाने का कोई स्रोत नहीं रह जाता, ऐसे में वे सेवानिवृति के समय मिलनेवाली रकम को ऐसी जगह लगाना चाहते हैं, जहाँ उनके पैसे सुरक्षित रहें और साथ में उन्हें फायदा भी हो। भारतीय डाक विभाग, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम नाम की एक ऐसी ही बचत निवेश स्कीम चला रही है। सरकार ने 1 अक्टूबर 2022 से आरंभ होनेवाली इस तिमाही में इस योजना के ब्याज दरों में बढ़ोत्तरी की है।

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

निवेश करने की पात्रता और निवेश की जाने वाली रकम

डाक घर की सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में 60 वर्ष या इससे अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति अपना खाता खुलवा सकता है। इसके साथ ही सरकारी पदों से वीआरएस लेने वाले लोग 55 से 60 साल की उम्र के होने पर भी इस योजना में खाता खुलवा सकते हैं। आर्मी, एयर फोर्स, नेवी के साथ-साथ अन्य सुरक्षा बलों से सेवानिवृत हुए लोग, जिनकी उम्र 50 से 60 साल के बीच है, वे भी इस स्कीम में अकेले या ज्वॉइंट अकाउंट खोलने के पात्र हैं।

इस स्कीम में न्यूनतम 1,000 रुपए का निवेश किया जा सकता है और इसमें जमा की जानेवाली अधिकतम राशि 15 लाख रुपए हैं। इस स्कीम में निवेश करने पर सीनियर सिटीजन को आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80सी के अंतर्गत कर संबंधी लाभ भी मिलते हैं। किसान विकास पत्र जैसे निवेश पर ऐसा कोई लाभ नहीं मिलता है। 

कितना मिलेगा ब्याज?

केन्द्र सरकार द्वारा चालू तिमाही में 1 अक्टूबर 2022 से इस स्कीम पर दिए जाने वाले ब्याज की दर बढ़ा दी गई है। इस स्कीम में निवेश करने पर आपको 7.6 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलेगा। 

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में किए गए निवेश को मैच्योरिटी की अवधि से पहले निकालने पर कुछ शर्तें लागू हैं। अगर आप खाता खुलवाने के एक साल से कम समय के बाद इस खाते को बंद कराते हैं तो आपको निवेश की गई रकम पर कोई ब्याज नहीं मिलेगा। इसके अलावा अगर आप 1 से 2 साल के बीच में अपना खाता बंद कराते हैं, तो पोस्ट ऑफिस आपको दिये गए ब्याज की में से 1.5 प्रतिशत की कटौती करेगा। अगर आप 2 से 5 सालों में इस खाते को बंद कराते हैं तो आपकी कुल राशि में से 1 प्रतिशत की कटौती की जाएगी.। 

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में निवेश की अवधि 

निवेश की कुल अवधि 5 वर्ष है। अगर आपको कोई जरूरत हो तो आप इस समय-सीमा से पहले भी अपनी निवेश की गई रकम वापस ले सकते हैं । उदाहरण के तौर पर, अगर आप 2022 में 5 साल के लिए 5 लाख रुपए का निवेश करते हैं, तो यह 2027 में मैच्योर होगा। इसपर आपको 7.6% वार्षिक ब्याज मिल रहा है। इस तरह 5 साल बाद निवेश किए गये गए 5 लाख रुपयों के बदले आपको कुल 6,90,000 रुपए मिलेंगे। 

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

Expert Article block example

संवादपत्र

संबंधित लेख