Equity Linked Savings Schemes give huge returns in the long term! : इक्विटी लिंक्ड‍ बचत योजनाओं ने लंबी अवधि में दिया बड़ा मुनाफा!

ईएलएसएस स्कीम में लंबी अवधि के लिए निवेश करने पर मिलता है अधिकतम लाभ।

ईएलएसएस योजनाओं से कमाएं 1 लाख

ELSS scheme: अगर आप अच्छा लाभ कमाने के साथ-साथ कर में भी छूट चाहते हैं तो ईएलएसएस आपके लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है। हर साल आय कर में छूट पाने के लिए निवेशक ऐसे विकल्प खोजते हैं, जहां कर लाभ मिले। अगर आप भी ऐसा कोई विकल्प चुन रहे हैं तो निवेशित राशि पर मिलने वाले लाभ का ध्यान रखें और सही विकल्प चुनें। म्यूचुअल फंड की इक्विटी लिंक्ड‍ सेविंग्स स्कीम ऐसा ही विकल्प है, इसमें 1.50 लाख रुपए तक के लाभ पर कर में छूट भी मिलती है।

किसी भी समय शुरू की जा सकती है एसआईपी

बीएनपी फिनकैप के निदेशक एके निगम ने जानकारी दी कि जो निवेशक बाजार का कुछ जोखिम उठाने को तैयार हैं, उनके लिए ईएलएसएस एक अच्छा विकल्प हो सकता है। ये स्कीमें इक्विटी लिंक्ड होने के कारण इन पर जोखिम रहता हैं। इनमें लॉक इन पीरियड का कम यानी तीन साल का होना भी एक बड़ा फायदा है।

इसमें लंबे समय के पूंजीगत लाभ पर कर देना होता है, लेकिन 1 लाख तक की आमदनी कर से मुक्त है। तीन साल की अवधि के पूरी हो जाने के बाद भी आप पैसे को जब तक चाहें जमा रख सकते हैं। इसमें साल के किसी भी समय एसआईपी शुरू की जा सकती है।

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

सबसे अच्छा रिटर्न देने वाली योजनाएं

करीब तीन साल के निवश पर क्वांट टैक्सा प्लान- 40 प्रतिशत, एसबीआई लॉन्ग टर्म एडवांटेज फंड सीरीज चार IV- 31 प्रतिशत, टैक्स एडवांटेज फंड-सीरीज तीन- 31 प्रतिशत, बैंक ऑफ इडिया टैक्स एडवांटेज फंड- 24 प्रतिशत, सुदंरम लॉन्ग‍ टर्म माइक्रोकैप टैक्स एडवांटेज- 28 प्रतिशत और आईडीएफसी टैक्स एडवांटेज (ईएलएसएस) फंड, करीब 24प्रतिशत का रिटर्न देती है।

इसी तरह पांच साल में सबसे अच्छा मुनाफा देने वाले फंड हैं- 

क्वांट टैक्स प्लान-23प्रतिशत, एसबीआई टैक्स एडवांटेज फंड-सीरीज तीन-22 प्रतिशत, केनरा रोबेको इक्विटी टैक्सट सेवर फंड- 16 प्रतिशत, मिरे एसेट टैक्स सेवर फंड- 14 प्रतिशत और कोटक टैक्स सेवर-13 प्रतिशत।

जबकि दस साल के लिए निवेश करने पर नीचे लिखे फंड सबसे अच्छा मुनाफा देते हैं-

क्वांट टैक्स प्लान- 20 प्रतिशत, बैंक ऑफ इडिया टैक्स एडवांटेज फंड- 17 प्रतिशत, एक्सिस लॉन्ग टर्म इक्विटी फंड: 16 प्रतिशत, आईडीएफसी टैक्स एडवांटेज (ईएलएसएस) फंड -16प्रतिशत, डीएसपी टैक्स  सेवर फंड- 16प्रतिशत।

ईएलएसएस में आयकर अधिनियम सेक्शन 80C के अनुसार 1.50 लाख रुपये तक के निवेश पर करों में छूट मिलती है। इसमें 3 साल का लॉक-इन पीरियड होता है, जबकि कर बचाने वाली सावधि जमा पर लॉक-इन पीरियड 5 साल का होता है। इस योजना का पैसा इक्विटी में लगाया जाता है, जिसमें से अधिक लाभ होने की संभावना रहती है। इसमें एसआईपी करा कर नियमित निवेश किया जा सकता हैऔर 1 लाख रुपये तक के लंबे समय की पूंजीगत लाभ कर मुक्त रहता है।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

ELSS scheme: अगर आप अच्छा लाभ कमाने के साथ-साथ कर में भी छूट चाहते हैं तो ईएलएसएस आपके लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है। हर साल आय कर में छूट पाने के लिए निवेशक ऐसे विकल्प खोजते हैं, जहां कर लाभ मिले। अगर आप भी ऐसा कोई विकल्प चुन रहे हैं तो निवेशित राशि पर मिलने वाले लाभ का ध्यान रखें और सही विकल्प चुनें। म्यूचुअल फंड की इक्विटी लिंक्ड‍ सेविंग्स स्कीम ऐसा ही विकल्प है, इसमें 1.50 लाख रुपए तक के लाभ पर कर में छूट भी मिलती है।

किसी भी समय शुरू की जा सकती है एसआईपी

बीएनपी फिनकैप के निदेशक एके निगम ने जानकारी दी कि जो निवेशक बाजार का कुछ जोखिम उठाने को तैयार हैं, उनके लिए ईएलएसएस एक अच्छा विकल्प हो सकता है। ये स्कीमें इक्विटी लिंक्ड होने के कारण इन पर जोखिम रहता हैं। इनमें लॉक इन पीरियड का कम यानी तीन साल का होना भी एक बड़ा फायदा है।

इसमें लंबे समय के पूंजीगत लाभ पर कर देना होता है, लेकिन 1 लाख तक की आमदनी कर से मुक्त है। तीन साल की अवधि के पूरी हो जाने के बाद भी आप पैसे को जब तक चाहें जमा रख सकते हैं। इसमें साल के किसी भी समय एसआईपी शुरू की जा सकती है।

यह भी पढ़ें: ७ वित्तीय नियम

सबसे अच्छा रिटर्न देने वाली योजनाएं

करीब तीन साल के निवश पर क्वांट टैक्सा प्लान- 40 प्रतिशत, एसबीआई लॉन्ग टर्म एडवांटेज फंड सीरीज चार IV- 31 प्रतिशत, टैक्स एडवांटेज फंड-सीरीज तीन- 31 प्रतिशत, बैंक ऑफ इडिया टैक्स एडवांटेज फंड- 24 प्रतिशत, सुदंरम लॉन्ग‍ टर्म माइक्रोकैप टैक्स एडवांटेज- 28 प्रतिशत और आईडीएफसी टैक्स एडवांटेज (ईएलएसएस) फंड, करीब 24प्रतिशत का रिटर्न देती है।

इसी तरह पांच साल में सबसे अच्छा मुनाफा देने वाले फंड हैं- 

क्वांट टैक्स प्लान-23प्रतिशत, एसबीआई टैक्स एडवांटेज फंड-सीरीज तीन-22 प्रतिशत, केनरा रोबेको इक्विटी टैक्सट सेवर फंड- 16 प्रतिशत, मिरे एसेट टैक्स सेवर फंड- 14 प्रतिशत और कोटक टैक्स सेवर-13 प्रतिशत।

जबकि दस साल के लिए निवेश करने पर नीचे लिखे फंड सबसे अच्छा मुनाफा देते हैं-

क्वांट टैक्स प्लान- 20 प्रतिशत, बैंक ऑफ इडिया टैक्स एडवांटेज फंड- 17 प्रतिशत, एक्सिस लॉन्ग टर्म इक्विटी फंड: 16 प्रतिशत, आईडीएफसी टैक्स एडवांटेज (ईएलएसएस) फंड -16प्रतिशत, डीएसपी टैक्स  सेवर फंड- 16प्रतिशत।

ईएलएसएस में आयकर अधिनियम सेक्शन 80C के अनुसार 1.50 लाख रुपये तक के निवेश पर करों में छूट मिलती है। इसमें 3 साल का लॉक-इन पीरियड होता है, जबकि कर बचाने वाली सावधि जमा पर लॉक-इन पीरियड 5 साल का होता है। इस योजना का पैसा इक्विटी में लगाया जाता है, जिसमें से अधिक लाभ होने की संभावना रहती है। इसमें एसआईपी करा कर नियमित निवेश किया जा सकता हैऔर 1 लाख रुपये तक के लंबे समय की पूंजीगत लाभ कर मुक्त रहता है।

यह भी पढ़ें: मार्केट में निफ़्टी ५० से रिटर्न कैसे पाए?

संवादपत्र

संबंधित लेख

Union Budget