ई-फाइलिंग "लाइट" संस्करण करदाताओं के लिए लॉन्च किया गया

आयकर विभाग के ई-फाइलिंग वेब पोर्टल में ई-फाइलिंग आवेदन के नए लॉन्च किए गए "लाइट" संस्करण के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करें |

करदाताओं के लिए ई-फाइलिंग का लाइट संस्करण

आई.टी.आर. दाखिल करने वाले नागरिकों के लाभ के लिए आयकर विभाग द्वारा 1 अगस्त 2019 को ई-फाइलिंग सुविधा का एक 'लाइट' संस्करण लॉन्च किया गया था। यह लॉन्च करदाताओं के लिए रिटर्न फाइलिंग अभ्यास को आसान और त्वरित बनाएगा। यह संस्करण आई.टी.आर. ई-फाइलिंग वेब पोर्टल में उपलब्ध है।

ई-फाइलिंग लाइट का उपयोग करने के लिए, जो ई-फाइलिंग पोर्टल के लाइट संस्करण है , करदाता को आईटीआर ई-फाइलिंग वेब पेज के होम पेज पर 'ई-फाइलिंग लाइट' बटन दबाना होगा। लाइट संस्करण में, करदाताओं को केवल आवश्यक लिंक प्रदान किए जाएंगे जैसे आई.टी.आर. फॉर्म लिंक और 26AS। ई-कार्यवाही, ई-निवारन, अनुपालन, कार्यसूची और प्रोफ़ाइल सेटिंग जैसी सुविधाएँ, जो नियमित पृष्ठ में पाए जाते है, लाइट संस्करण में दिखाई नहीं देंगे, क्योंकि इन्हें इस संस्करण से हटा दिया गया है। करदाता इस संस्करण को नियमित की तुलना में कम अव्यवस्थित पाएंगे।

विशेष रूप से, व्यक्तियों द्वारा आयकर रिटर्न दाखिल करने की नियत तारीख 31 जुलाई 2019 से 31 अगस्त 2019 तक बढ़ा दी गई थी।

"लाइट" संस्करण के कंटेंट क्या है?

करदाता को अपनी प्रोफ़ाइल के डैशबोर्ड में आयकर रिटर्न दाखिल करने और देखने का विकल्प मिलता है। 'माय अकाउंट' सेक्शन में करदाता 26AS, ई-फाइल किए गए रिटर्न और फॉर्म देख सकते है और पहले से भरे XML को भी डाउनलोड कर सकते है। और, निश्चित रूप से, ई-फाइल ड्रॉपडाउन में जाकर आप आयकर रिटर्न दाखिल कर सकते है।

लाइट संस्करण में वे कौन से कंटेंट हैं, जिन्हे हटाया गया है?

ड्रॉपडाउन में ई-कार्यवाही, ई-निवारन, अनुपालन, कार्यसूची और प्रोफ़ाइल सेटिंग्स को पूरी तरह से अपने कंटेंट के साथ हटाया गया है। यहां तक कि 'माई अकाउंट' ड्रॉपडाउन में भी 13 में से 10  खत्म हो चुके हैं। लाइट वर्जन के ई-फाइल ड्रॉपडाउन में नोटिस का जवाब, समाधान,बकाया मांग की प्रतिक्रिया आदि विशेषताएं नहीं हैं।

ई-फाइलिंग पेज पर रिटर्न कैसे फाइल करें?

चरण 1: आपको अपने यूजर आईडी, अपने पासवर्ड और कैप्चा का उपयोग करके ई-फाइलिंग वेबसाइट के लाइट संस्करण में लॉग इन करना होगा।

चरण 2: अपनी प्रोफाइल के अंदर, आपको डैशबोर्ड पर  इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग के लिंक का चयन करना होगा। वैकल्पिक रूप से, यह आयकर रिटर्न पर क्लिक करने पर ई-फाइल ड्रॉपडाउन में भी उपलब्ध है।

चरण 3: आपको मूल्यांकन वर्ष और आईटीआर फॉर्म संख्या का चयन करना होगा और अपने फाइलिंग प्रकार की पुष्टि करनी होगी, जो डिफ़ॉल्ट रूप से मूल रूप / संशोधित रिटर्न है।

चरण 4: सबमिशन प्रक्रिया में, आप 'तैयार करें और ऑनलाइन सबमिट करें' या 'XML अपलोड करें' का चयन कर सकते हैं।

चरण 5: एक बार चुने जाने पर, आपको रिफंड क्रेडिट उद्देश्यों के लिए अपने बैंक खाते की पुष्टि करनी होगी। इसके बाद, आपके स्क्रीन पर आई.टी.आर. दिखाई देता है,जिसे आप भर सकते हैं, समीक्षा कर सकते हैं और जमा कर सकते हैं।

यहां आई.टी.आर. फॉर्म के कुछ प्रकार हैं, जिनके बारे में हर करदाता को पता होना चाहिए। उपलब्ध विभिन्न प्रकार के आई.टी.आर. रूपों की व्यापक समझ विकसित करने के लिए इन पर एक नज़र डालें।

संबंधित लेख

 

Most Shared