पर्सनल लोन या क्रेडिट कार्ड लोन: कौनसा चुनें और कब लें?

क्या आपको तुरंत कर्ज़ की जरूरत है? पता करें कि आपको पर्सनल लोन लेना चाहिए या क्रेडिट कार्ड लोन?

पर्सनल लोन या क्रेडिट कार्ड लोन: कौनसा चुनें और कब लें?

मान लेते हैं कि आपको तत्काल पैसे की ज़रूरत है। क्या आपको पर्सनल लोन का विकल्प चुनना चाहिए या क्रेडिट कार्ड से कर्ज़ लेना चाहिए? आप कैसे तय करेंगे कि दोनों में से कौनसा विकल्प चुनें? 

असल में यह पूरी तरह से आपकी ज़रूरत पर निर्भर करता है। दोनों के अपने फायदे और नुकसान है। आपको कर्ज़ लेने के उद्देश्य और कर्ज़ चुकाने की क्षमता को सही से समझकर अपने विकल्प का चुनाव करना चाहिए।  

आइए इन दोनों विकल्पों के बारे में विस्तार से बात करते हैं। 

पर्सनल लोन – पर्सनल लोन एक अनसिक्योरड लोन होता है जो आप किसी भी कारण जैसे मेडिकल इमरजेंसी, कोई मंहगी चीज़ खरीदने या कहीं घूमने जाने के लिए ले सकते हैं। 

कुछ लोग पुराना कर्ज़ चुकाने के लिए भी पर्सनल लोन का इस्तेमाल करते हैं।पर्सनल लोन के पैसे का इस्तेमाल किसी भी तरह किया जा सकता है इसलिए बहुत से लोगों को यह विकल्प पसंद आता है। 

क्रेडिट कार्ड लोन– दूसरी तरफ, क्रेडिट कार्ड लोन एक प्री-अप्रूव्ड लोन होता है जो आपकी क्रेडिट कार्ड सीमा के उस हिस्से के रूप में दिया जाता है जिसका आपने इस्तेमाल नहीं किया है। ध्यान रखें कि यह एटीएम से जाकर नकदी निकालने जैसा नहीं है। 


1. योग्यता

पर्सनल लोन– पर्सनल लोन देने से पहले बैंक आपकी वित्तीय क्षमता की जांच करेगा। इसमें आपके पेशे या व्यवसाय, वित्तीय विश्वसनीयता और क्रेडिट हिस्ट्री की जांच की जाएगी।बैंक इस बात को पक्का करेगा कि आपके पास कर्ज़ वापस चुकाने की क्षमता है। 

क्रेडिट कार्ड लोन – जैसा कि पहले भी बताया गया है आपकी क्रेडिट कार्ड सीमा के इस्तेमाल नहीं किए गए हिस्से का उपयोग क्रेडिट कार्ड पर कर्ज़ लेने के लिए किया जा सकता है।इसके लिए किसी तरह के दस्तावेज़ों की ज़रूरत नहीं होती। कर्ज़ लेने का यह सबसे तेज़ तरीका है लेकिन सभी ग्राहक इस कर्ज़ को लेने के योग्य नहीं होते।इस विकल्प को चुनने से पहले कुछ बातों पर ध्यान दें- अगर यह कर्ज़ लेते हैं तो आपकी क्रेडिट कार्ड सीमा अस्थाई रूप से बंद हो जाएगी।जैसे - जैसे आप कर्ज़ चुकाते जाएंगे आपकी क्रेडिट कार्ड की सीमा खुलती चली जाएगी। 

2.  ब्याज़ दर

यह सबसे ज़रूरी बात है जिस पर कर्ज़ लेते समय ध्यान देना चाहिए।

पर्सनल लोन– पर्सनल लोन पर ब्याज़ दर बहुत ज़्यादा होती है। आपकी क्रेडिट हिस्ट्री के हिसाब से यह 13% से 22% के बीच हो सकती है।अगर आप पर पहले से बहुत ज़्यादा कर्ज़ बकाया नहीं है तो आपको कम ब्याज़ दर पर कर्ज़ मिल सकता है। कुछ बैंक घटते बैलेंस रेट से भी पर्सनल लोन देते हैं। 
 
क्रेडिट कार्ड लोन – क्रेडिट कार्ड लोन 10% से 18% की ब्याज दर पर मिल सकता है।चूंकि आप पहले से ही क्रेडिट कार्ड कंपनी के ग्राहक हैं और अगर आपने पुराने कर्ज़ समय से चुकाए हैं तो आप दर कम करवाने के लिए बात कर सकते हैं।

3.  कर्ज़ की राशि

आप कौनसा विकल्प चुनें यह इस बात पर भी निर्भर करेगा कि आपको कितने पैसे की ज़रूरत है।

पर्सनल लोन – पर्सनल लोन के साथ कई फायदे मिलते हैं। इसमें आप कुछ हज़ार रूपयों से लेकर लाखों रूपये तक का कर्ज़ ले सकते हैं।हालांकि कर्ज़ की राशि बहुत सी बातों पर निर्भर करती है जैसे कर्ज़ चुकाने की आपकी क्षमता और क्रेडिट प्रोफाइल।अचानक आई कोई मेडिकल इमरजेंसी जैसे अचानक होने वाली सर्जरी जैसी ज़रूरतों को पर्सनल लोन से पूरा किया जा सकता है, जहां आपकी क्रेडिट और योग्यता जांच के बाद पैसा मिल जाता है। 

क्रेडिट कार्ड लोन – अगर आपको कम पैसों की जरूरत हो तो यह विकल्प सबसे सही है। कर्ज़ की राशि आपके क्रेडिट कार्ड की बची हुई सीमा पर निर्भर करती है। अगर आपको क्रेडिट सीमा से ज्‍यादा पैसे की ज़रूरत है तो संभावना है कि आपके कर्ज़ का आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा। 

4. समय सीमा

पर्सनल लोन – पर्सनल लोन में कर्ज़ चुकाने की सीमा 1 से 5 वर्ष के बीच हो सकती है। इसमें आपको योजना बनाने और कर्ज़ चुकाने के लिए पर्याप्त समय मिल जाता है। 

क्रेडिट कार्ड लोन – दूसरी तरफ क्रेडिट कार्ड पर मिले कर्ज़ को वापस चुकाने के लिए कम समय मिलता है, यह सीमा 6 महीने से 36 महीने के बीच हो सकती है। इसलिए इस विकल्प का इस्तेमाल छोटी रकम लेने के लिए करना ही सही रहता है। 

5. दस्तावेज़

पर्सनल लोन –भले ही आप नौकरीपेशा हों या खुद का व्यवसाय करते हों, आपको ज़रूरी दस्तावेज़ जैसे पैन कार्ड, पहचान और पते का प्रमाण, 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट और 3 वर्ष का आईटीआर लगाने होंगे।

क्रेडिट कार्ड लोन– दूसरी तरफ क्रेडिट कार्ड लोन के लिए किसी तरह के दस्तावेज़ की ज़रूरत नहीं होती। बस पुराना कर्ज़ चुकाने का आपका रिकॉर्ड सही होना चाहिए।  

6. कर्ज़ लेने में लगने वाला समय

पर्सनल लोन– पर्सनल लोन के लिए दस्तावेज़ों को जमा करने की ज़रूरत होती है इसलिए कर्ज़ मिलने में समय लग सकता है। जब आपको तुरंत पैसे की ज़रूरत न हो तभी पर्सनल लोन के लिए आवेदन करें।  

क्रेडिट कार्ड लोन – अगर क्रेडिट कार्ड जारी करने वाले बैंक के साथ आपका बचत खाता भी है तो आपको तुरंत कर्ज़ मिल जाएगा। अगर आपको तुरंत अनसिक्योरड लोन की ज़रूरत है तो क्रेडिट कार्ड से कर्ज़ लेना सही रहेगा।

तो आपका क्या फैसला है? 

अगर आपको किसी मेडिकल इमरजेंसी या किसी दूसरे बड़े कर्ज़ को चुकाने के लिए ज़्यादा पैसे की ज़रूरत है तो पर्सनल लोन लेना सही है।अगर आपको छोटी रकम की ज़रूरत है जैसे कि गैजेट को खरीदने के लिए और क्रेडिट सीमा के कुछ समय के लिए बंद हो जाने का आप पर फर्क नहीं पड़ता, तो आपके लिए क्रेडिट कार्ड से कर्ज़ लेना सही रहेगा

आप चाहे किसी भी विकल्प को चुनें लेकिन कर्ज देने वाले अलग - अलग संस्थानों की ब्याज़ दरों और कर्ज़ चुकाने की शर्तों की तुलना ज़रूर करें क्योंकि संस्थान के हिसाब से इनमें अंतर हो सकता है। 

संबंधित लेख

Most Shared