Atal Pension Yojana for taxpayers: अगर चूक गए तो नहीं मिलेगा अटल पेंशन योजना का लाभ

1 अक्टूबर से बदल रहा है अटल पेंशन योजना का एक नियम

अटल पेंशन योजना

Atal Pension Yojana: अटल पेंशन योजना पीएफआरडीए द्वारा संचालित एक लोकप्रिय पेंशन योजना है। अगले पाँच दिन, यानी 30 सितंबर से पहले तक 18 से 40 साल की उम्र में आने वाला देश का कोई भी नागरिक अटल पेंशन योजना में निवेश कर सकता है। 30 सितंबर तक ऐसा करने वालों को अटल पेंशन योजना के लाभ मिलते रहेंगे। लेकिन 1 अक्टूबर 2022 से इन नियमों में एक खास बदलाव होने जा रहा है। 1 अक्टूबर के बाद ऐसे नागरिक जो कर देते हैं, वे अटल पेंशन योजना में शामिल होने के लिए पात्र नहीं होंगे।

तो अगर आप एक करदाता हैं और फिर भी अटल पेंशन योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आपके पास इस योजना में निवेश करने के लिए केवल पाँच दिन बचे हैं। इसके बाद आप चाहकर भी इस योजना में शामिल नहीं हो पाएंगे। 

गौरतलब है कि यह योजना देश की एक लोकप्रिय सरकारी पेंशन योजना बन गई है और इसके सदस्यों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। भारतीय पेंशन फंड नियामक एवं विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) के अनुसार अब तक इस योजना से लगभग 4 करोड़ लोग जुड़ चुके हैं। अगर आप इन 5 दिनों में खाता खोलते हैं तो 1 अक्टूबर के बाद से लागू होने वाले नियम का इस पर कोई असर नहीं होगा। लेकिन 1 अक्टूबर के बाद अगर कोई करदाता खाता खोलता भी है तो इसकी जानकारी मिलने पर उसे बंद कर दिया जाएगा और खाते में जमा राशि उसे वापस लौटा दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: कर-मुक्त बॉन्ड क्या है, काम करता कैसे है

अटल पेंशन योजना और इसके लिए पात्रता

अटल पेंशन योजना को भारत सरकार की गारंटी प्राप्त है। भारत सरकार इससे मिलने वाले पेंशन से जुड़े लाभों की गारंटी देती है। इस पेंशन योजना का फायदा उठाने के लिए आपकी उम्र 18 और 40 साल के बीच होनी चहिए। इस योजना में कम से कम 20 साल तक निवेश करना आवश्यक है। अटल पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास अपने आधार कार्ड से जुड़ा बैंक खाता होना आवश्यक है।

अटल पेंशन योजना में हर महीने 1000 रुपए से 5000 रुपए पेंशन का प्रावधान है। अलग-अलग उम्र के लोगों के लिए योजना में अंशदान की रकम भी अलग अलग है। अगर आपकी उम्र 18 साल है तो 60 साल की उम्र हो जाने पर हर महीने 5000 रुपए पेंशन पाने के लिए आपको हर महीने 210 रुपए योगदान देना होगा। अगर आप 30 साल के हैं तो हर महीने आपको 577 रुपए देने होंगे, और 39 साल के हैं तो हर महीने 1318 रुपए का अंशदान देना होगा।

अगर करदाता होने के बावजूद इस योजना में शामिल होने का विचार हो तो 30 सितंबर तक इसके लिए खाता ज़रूर खुलवा लें।

संबंधित आलेख: अटल पेंशन योजना देगी आर्थिक सुरक्षा आपके बुढ़ापे को

Income tax payers cannot join Atal Pension Yojna from October

Atal Pension Yojana: अटल पेंशन योजना पीएफआरडीए द्वारा संचालित एक लोकप्रिय पेंशन योजना है। अगले पाँच दिन, यानी 30 सितंबर से पहले तक 18 से 40 साल की उम्र में आने वाला देश का कोई भी नागरिक अटल पेंशन योजना में निवेश कर सकता है। 30 सितंबर तक ऐसा करने वालों को अटल पेंशन योजना के लाभ मिलते रहेंगे। लेकिन 1 अक्टूबर 2022 से इन नियमों में एक खास बदलाव होने जा रहा है। 1 अक्टूबर के बाद ऐसे नागरिक जो कर देते हैं, वे अटल पेंशन योजना में शामिल होने के लिए पात्र नहीं होंगे।

तो अगर आप एक करदाता हैं और फिर भी अटल पेंशन योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आपके पास इस योजना में निवेश करने के लिए केवल पाँच दिन बचे हैं। इसके बाद आप चाहकर भी इस योजना में शामिल नहीं हो पाएंगे। 

गौरतलब है कि यह योजना देश की एक लोकप्रिय सरकारी पेंशन योजना बन गई है और इसके सदस्यों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। भारतीय पेंशन फंड नियामक एवं विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) के अनुसार अब तक इस योजना से लगभग 4 करोड़ लोग जुड़ चुके हैं। अगर आप इन 5 दिनों में खाता खोलते हैं तो 1 अक्टूबर के बाद से लागू होने वाले नियम का इस पर कोई असर नहीं होगा। लेकिन 1 अक्टूबर के बाद अगर कोई करदाता खाता खोलता भी है तो इसकी जानकारी मिलने पर उसे बंद कर दिया जाएगा और खाते में जमा राशि उसे वापस लौटा दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: कर-मुक्त बॉन्ड क्या है, काम करता कैसे है

अटल पेंशन योजना और इसके लिए पात्रता

अटल पेंशन योजना को भारत सरकार की गारंटी प्राप्त है। भारत सरकार इससे मिलने वाले पेंशन से जुड़े लाभों की गारंटी देती है। इस पेंशन योजना का फायदा उठाने के लिए आपकी उम्र 18 और 40 साल के बीच होनी चहिए। इस योजना में कम से कम 20 साल तक निवेश करना आवश्यक है। अटल पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास अपने आधार कार्ड से जुड़ा बैंक खाता होना आवश्यक है।

अटल पेंशन योजना में हर महीने 1000 रुपए से 5000 रुपए पेंशन का प्रावधान है। अलग-अलग उम्र के लोगों के लिए योजना में अंशदान की रकम भी अलग अलग है। अगर आपकी उम्र 18 साल है तो 60 साल की उम्र हो जाने पर हर महीने 5000 रुपए पेंशन पाने के लिए आपको हर महीने 210 रुपए योगदान देना होगा। अगर आप 30 साल के हैं तो हर महीने आपको 577 रुपए देने होंगे, और 39 साल के हैं तो हर महीने 1318 रुपए का अंशदान देना होगा।

अगर करदाता होने के बावजूद इस योजना में शामिल होने का विचार हो तो 30 सितंबर तक इसके लिए खाता ज़रूर खुलवा लें।

संबंधित आलेख: अटल पेंशन योजना देगी आर्थिक सुरक्षा आपके बुढ़ापे को

Income tax payers cannot join Atal Pension Yojna from October

संवादपत्र

संबंधित लेख