Narendra Modi Government announced Dearness Allowance for Executives and supervisors in CPSEs, see more in hindi

सार्वजनिक उद्यम विभाग (डिपार्टमेंट ऑफ पब्लिक इंटरप्राइजेज) ने सीपीएसई में सुपरवाइजर्स और एग्जिक्यूटिव्स के लिए महंगाई भत्ते की दरों में संशोधन किया है। यह संशोधन 1 जुलाई से प्रभावी है।

DA Govt Employees

Govt Employees DA Announcement:केंद्रीय सरकार कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है। डिपार्टमेंट ऑफ पब्लिक इंटरप्राइजेज ने सेंट्रल पब्लिक सर्विस इंटरप्राइज (CPSE) में अधिकारियों और पर्यवेक्षकों के लिए महंगाई भत्ते की दरों में संशोधन किया है। सार्वजनिक उद्यम विभाग ने एक घोषणा में कहा कि बोर्ड स्तर के पद रखने वाले सीपीएसई के अधिकारियों, बोर्ड स्तर के नीचे के पदों और एल992 वेतनमान के आईडीए पैटर्न का पालन करने वाले नॉन-यूनियनाइज्ड सुपरवाइजर्स को देय डीए की दरों को संशोधित किया जा सकता है।

किसे कितना फायदा
विभाग ने कहा कि महंगाई भत्ते के भुगतान में 50 पैसे और उससे ज्यादा के अंश को अगले उच्च रुपये में पूर्णांकित किया जा सकता है और 50 पैसे से कम के अंश को नजरअंदाज किया जा सकता है। अब केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों को इससे होने वाले फायदे की बात करें तो हर महीने 3,500 रुपये तक के मूल वेतन के लिए डीए दर वेतन का 701.9 पर्सेंट होगी, जो कि न्यूनतम 15,428 रुपये होगी। 3,501 रुपये और 6,500 रुपये प्रति माह के बीच मूल वेतन के लिए डीए दर वेतन का 526.4 फीसदी होगी, जो न्यूनतम 24,567 रुपये होगी। 6,500 रुपये से ज्यादा और 9,500 तक के मूल वेतन के लिए डीए दर वेतन का 421.1 फीसदी होगी, जो कि न्यूनतम 34,216 रुपये होगी। ये दरें 1 जुलाई से प्रभावी हैं

आपको बता दें कि एक जुलाई 2023 से न्यूट्रलाइजेशन की पुरानी प्रणाली पर 2.00 रुपये प्रति पॉइंट शिफ्ट की दर से 96 अंकों की वृद्धि के लिए देय आईडीए की मात्रा 192 रुपये हो सकती है और एआईसीपीआई 8813 पर देय डीए 16215.75 रुपये हो सकता है। आपको बता दें कि सरकार कर्मचारियों को उच्च मुद्रास्फीति के कारण लगातार बढ़ती कीमतों से निपटने में मदद करने के लिए डीए का भुगतान करती है।

संवादपत्र