Term Insurance for Smokers: धूम्रपान करने वालों के लिए कितना महंगा हो जाता है टर्म इंश्योरेंस का प्रीमियम?

Term Insurance for Smokers: अगर आप टर्म इंश्योरेंस लेने का विचार कर रहे हैं तो जान लीजिए कि स्मोकर और नॉन स्मोकर से इंश्योरेंस कंपनी कितना प्रीमियम लेती है। आपकी जेब पर कितना पड़ेगा फर्क

Term Insurance for Smokers

Term Insurance for Smokers: अगर आप किसी भी तरह से धूम्रपान करते हैं तो आपको इंश्योरेंस कंपनी को साफ-साफ बता देना चाहिए कि आप धूम्रपान करते हैं। अगर आप कंपनी से झूठ बोलते हैं तो ये आपको भारी पड़ सकता है। इंश्योरेंस कंपनी इस आधार पर मुआवजा देने से मना कर सकती है कि आपने कॉन्ट्रेक्ट में झूठ बोला लिहाजा कंपनी आपको भुगतान करने के लिए बाध्य नहीं है। 

अब सवाल ये कि आपने डिक्लेयर कर दिया कि आप सिगरेट पीते हैं तो आपको कितना अतिरिक्त प्रीमियम देना होगा? आम तौर पर स्मोकिंग करने वाले और नॉन स्मोकर के बीच प्रीमियम में 30 फीसदी का अंतर होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि स्मोकिंग करने वाले शख्स के बारे में कंपनी ये मानकर चलती है कि इसकी जान पर ज्यादा रिस्क है क्योंकि इसे गंभीर बीमारियों का खतरा ज्यादा है। 

Insurance Company Smoking Criteria: On these Answers Insurance company will assume that you are a smoker, will have to pay more premium in hindi

उदाहरण के साथ समझने की कोशिश करते हैं 28 साल का एक शख्स जो जो धूम्रपान नहीं करता उसे 50 लाख के टर्म इंश्योरेंस के लिए 11 हजार के आसपास प्रीमियम देनी पड़ेगी वहीं स्मोकिंग करने वाले शख्स को इतने ही कवर के लिए 17 हजार के आसपास प्रीमियम देनी पड़ेगी। ये राशि थोड़ी बहुत कम या ज्यादा हो सकती है।

अगर आप स्मोकर हैं तो ये मानकर चलिए कि आपको नॉन स्मोकर के मुकाबले करीब 50 फीसदी ज्यादा प्रीमियम का भुगतान करना पड़ेगा। कहीं ये चालीस प्रतिशत हो सकता है, कहीं तीस प्रतिशत तो कहीं 35 प्रतिशत लेकिन ये मानकर चलिए कि आपको कम से कम 30 प्रतिशत से पचास प्रतिशत के बीच ज्यादा भुगतान करना होगा।

Term Insurance For Tobacco User: How much premium does a smoker have to pay for term insurance? Why term insurance is important in hindi

&;

NEWSLETTER

Related Article

Premium Articles

Union Budget