LIC Investment in Jio Financial: एलआईसी ने जियो फाइनेंशियल सर्विसेज पर लगाया बड़ा दांव, खरीदी 6.66 फीसदी की हिस्सेदारी

LIC Investment in Jio Financial: एलआईसी ने जियो फाइनेंशिअल सर्विसेज में बड़ा दांव लगाया है। एलआईसी ने जियो फाइनेंशियल में 6.66 फीसदी हिस्सेदारी ली है।

LIC Investment in Jio Financial

LIC Investment in Jio Financial: सोमवार को लिस्ट हुए रिलायंस के नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल सर्विस ब्रांड जियो फाइनेंशियल सर्विस में एलआईसी ने बड़ा दांव लगाया है। एलआईसी ने मंगलवार को अपने बयान में कहा कि उसने रिलायंस ग्रुप के जियो फाइनेंशियल सर्विस में 6.66 फीसदी की हिस्सेदारी ले ली है। एलआईसी ने रेगुलेटरी फाइलिंग में इस निवेश की जानकारी दी है। एलआईसी ने कहा है कि डिमर्जर के जरिए एलआईसी ने जियो फाइनेंशियल सर्विसेज में 6.66 प्रतिशत की हिस्सेदारी हासिल की है। गौरतलब है कि जियो फाइनेंशियल सर्विसेज 21 अगस्त को स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट हुई थी। जियो फाइनेंशियल सर्विसेज का मार्केट कैप 1.60 लाख करोड़ रुपये है। 

Billionare in Inida: India has added almost 58000 crorepati taxpayers in 3 years jump of 51 percent in hindi

लिस्टिंग के दूसरे दिन जियो फाइनेंशियल सर्विसेज के शेयर में लगातार दूसरे दिन भी ओलर सर्किट लगा हुआ है। जियो फाइनेंशिय सर्विसेज का शेयर आज 4.99 प्रतिशत की गिरावट के साथ 239.20 रुपये पर कारोबार कर रहा है। 
आपको बता दें कि जियो फाइनेंशियल सर्विस का शेयर 261.85 रुपये पर लिस्ट हुआ था। लिस्टिंग के बाद शेयर्स को जरूर अच्छी प्रतिक्रिया मिली थी लेकिन बाद में उसमें लोअर सर्किट लग गया। हालांकि बाजार के जानकार जियो फाइनेंशियल से काफी उम्मीदें लगाकर बैठे हैं। 

Rice Price Increase: Rice prices rise after tomato-onion, rice costlier by 15 to 20 percent in hindi

रही बात एलआईसी की तो एलआईसी ने बड़ा दांव खेला है। ऐसा ही दांव एलआईसी ने अडानी ग्रुप के साथ भी खेला था। अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयर जब हिंडनबर्ग की रिपोर्ट के बाद गिरे थे तो कई लोगों ने एलआईसी के निवेश पर सवाल उठाए थे। हालांकि बाद में एलआईसी का वो फैसला सही साबित हुआ। अब एलआईसी ने जियो फाइनेंशियल पर दांव खेला है, देखना होगा कि ये फैसला कितना फायदेमंद होता है।

&;

NEWSLETTER

Related Article

Premium Articles