Share Market: आईटी और बैंक शेयरों में बिकवाली से बाजार में लगातार दूसरे दूसरे दिन गिरावट, सेंसेक्स 107 अंक धड़ाम

सेंसेक्स के समूह में शामिल शेयरों में से बजाज फिनसर्व, एचडीएफसी बैंक, टाटा मोटर्स, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, एक्सिस बैंक, इन्फोसिस, इंडसइंड बैंक, टेक महिंद्रा और मारुति सुजुकी में गिरावट दर्ज की गई।

Share Market

 

Share Market News: विदेशी बाजारों के मिले-जुले रुख के बीच घरेलू शेयर बाजारों में आईटी और बैंक शेयरों में बिकवाली होने से शुक्रवार को मानक सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी में लगातार दूसरे दिन गिरावट रही। बीएसई का 30 शेयरों वाला सूचकांक सेंसेक्स कारोबार के अंत में 106.62 अंक यानी 0.16 फीसदी गिरकर 66,160.20 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान एक समय यह 388.17 अंक तक कमजोर होकर 65,878.65 अंक तक आ गया था। नैशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का सूचकांक निफ्टी भी 13.85 अंक, यानी 0.07 फीसदी गिरकर 19,646.05 अंक पर बंद हुआ।

शुक्रवार को एनटीपीसी, पावर ग्रिड, महिंद्रा एंड महिंद्रा, जेएसडब्ल्यू स्टील, बजाज फाइनेंस, आईटीसी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में बढ़त का रुख देखा गया। एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कंपोजिट और हॉन्गकॉन्ग का हैंगसेंग बढ़त के साथ बंद हुए, जबकि जापान का निक्की गिरावट पर रहा। यूरोप के बाजारों में कारोबार के दौरान मिला-जुला रुख देखा जा रहा था। अमेरिकी बाजार गुरुवार को गिरावट के साथ बंद हुए थे। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.42 प्रतिशत गिरावट के साथ 83.89 डॉलर प्रति बैरल पर रहा। शेयर बाजार से मिले आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने गुरुवार को 3,979.44 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की बिकवाली की।

आपको बता दें कि विदेशी संस्थागत निवेशकों की बिकवाली और घरेलू बाजारों में गिरावट के बीच अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया शुक्रवार को 32 पैसे टूटकर 82.24 प्रति डॉलर (अस्थायी) पर बंद हुआ। विदेशी मुद्रा कारोबारियों ने बताया कि कच्चे तेल की कीमतें 84 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल के करीब पहुंचने से भी घरेलू मुद्रा पर असर पड़ा। दूसरी ओर अमेरिका में उम्मीद से बेहतर वृहद आर्थिक आंकड़ों के चलते अमेरिकी मुद्रा को मजबूती मिली। रुपया बृहस्पतिवार को 81.92 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था।

NEWSLETTER

Related Article

Premium Articles

Union Budget